बिरला यामाहा में मशीनें चोरी को लेकर यूकेडी और कर्मचारियों का प्रदर्शन

0
404

Dehradun. लालतप्पड़ स्थित बिरला यामाहा कंपनी में करोड़ों रुपए की मशीनें चोरी होने को लेकर उत्तराखंड क्रांति दल व कंपनी कर्मचारियों ने प्रदर्शन किया।

यहां आयोजित प्रेसवार्ता में उत्तराखंड क्रांति दल के नेता शिवप्रसाद प्रसाद सेमवाल ने कहा कि उन्होंने 15 दिन के अंदर चोरी के लिए जिम्मेदार लोगों के खिलाफ कार्यवाई को लेकर ज्ञापन दिया था। लेकिन 15 दिन बीतने के बावजूद इस पर शासन-प्रशासन की ओर से कोई कार्यवाही नहीं हुई है।

जिलाध्यक्ष केंद्रपाल तोपवाल ने कहा कि जब प्रशासन ने इस कंपनी को सील कर दिया था तो फिर प्रशासन की नाक के नीचे से करोड़ों रुपए की भारी-भरकम मशीनें कैसे चोरी हो गई। बिरला जामा कर्मचारी संघ के महासचिव बालम सिंह ने आरोप लगाया कि बिना कंपनी के मालिकों और प्रशासन की मिलीभगत से इतनी बड़ी चोरी संभव नहीं है।

कहा कि कंपनी कर्मचारियों के 14 करोड़ का भुगतान कंपनी की संपत्ति को नीलाम करने के बाद किया जाना था। लेकिन नीलामी से पहले ही सामान चोरी हो जाने के बाद अब कंपनी कर्मचारियों को अपना भुगतान की चिंता सता रही है।

वीरेंद्र थापा ने चेतावनी दी कि यदि इस बारे में कार्यवाई नहीं की गई तो उग्र प्रदर्शन किया जाएगा। प्रमोद डोभाल ने कहा कि जल्द ही वो जिलाधिकारी से मिलकर एक फैक्ट फाइंडिंग कमेटी, मीडिया व प्रशासन के अधिकारियों के साथ सील कंपनी के अंदर के सामान का जायजा लेने जाएंगे।

मौके पर कर्मचारी संघ के अध्यक्ष मोहन सिंह रावत, सुरेंद्र सिंह चौहान, अजय गोस्वामी, रुस्तम अली, शैलेंद्र नेगी, हरिप्रसाद गोदियाल, हुकुम सिंह खत्री आदि मौजूद रहे।