पूर्व सीएम त्रिवेंद्र सिंह और विस अध्यक्ष ने किया डोईवाला में पेराई सत्र का शुभारंभ

0
102

तीस लाख कुंतल पेराई लक्ष्य के साथ पेराई सत्र का हुआ शुभारंभ

डोईवाला। राजधानी देहरादून की एकमात्र शुगर मिल डोईवाला में सोमवार के दिन पेराई सत्र का शुभारंभ किया गया।

पूर्व मुख्यमंत्री और स्थानीय विधायक त्रिवेंद्र सिंह रावत और विस अध्यक्ष प्रेमचंद अग्रवाल ने पेराई सत्र शुरू होने से पहले चीनी मिल में पूजा-अर्चना में भाग लिया। जिसके बाद मिल की क्रेन का बटन दबाकर पेराई सत्र का शुभारंभ किया गया। चीनी मिल को डोईवाला गन्ना समिति के पांच क्रय केंद्रों, देहरादून गन्ना समिति के 19, रूडकी गन्ना समिति के 24, ज्वालापुर गन्ना समिति के 06,

लक्सर गन्ना समिति के एक, पांवटा साहिब के चार और गेट एरिया व मांग के अनुसार गन्ना लिया जाएगा। क्षेत्र में 92 फीसदी तक अगेती प्रजाति का गन्ना किसानों द्वारा बोया गया है। वहीं मिल ने दस फीसदी तक चीनी परता प्राप्त करने का लक्ष्य रखा गया है। चीनी मिल में चांदमारी के किसान तेजपाल सिंह ने सबसे पहले गन्ना पहुंचाया।

त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कहा कि गन्ने के भुगतान करने के मामले में उनकी सरकार सबसे आगे रही है। डोईवाला में गन्ना किसानों का भुगतान सबसे तेजी से किया गया है। गन्ना मूल्य बढाने पर भी उनकी सरकार निर्णय ले चुकी है। जल्द ही किसानों को ये खुशखबरी भी मिल जाएगी। उत्तराखंड का गन्ना मूल्य यूपी से अधिक रहेगा। जिसका किसानों को लाभ मिलेगा। इस अवसर पर अधिशासी निदेशक राकेश कुमार शर्मा,

करन वोहरा, संदीप गुप्ता, संपूर्ण सिंह रावत, विनय कंडवाल, दिनेश सजवाण, पीके पांडे, अशोक गर्ग, गन्ना सचिव हरबंश चुघ, गन्ना आयुक्त हिमानी पाठक, भगतराम कोठारी, एसडीएम युक्ता मिश्रा, बृजभूषण गैरोला, पंकज शर्मा, विक्रम नेगी, प्रदीप नेगी,  सुशील जायसवाल, मंदीप बजाज, कोमल कन्नौजिया, सतेंद्र कुमार, राजकुमार, हिमांशु राणा, सुषमा चौधरी, मनवर नेगी, चंद्रभान सतेंद्र चौधरी आदि उपस्थित रहे।