राज्य आंदोलनकारी बोले “29 फरवरी” तक उनकी समस्याओं पर ध्यान नही दिया तो सड़कों पर उतरेंगे आंदोलनकारी

1
185

देहरादून। राज्य आंदोलनकारी मंच के बेनर तले राज्य हितों व राज्य आन्दोलनकारियों की 08 (आठ) सूत्रीय मागों को लेकर सरकार की अनदेखी पर नाराजगी व्यक्त की।
राज्य आन्दोलनकारियों के विधान सभा घिराव के दौरान डा० धन सिंह रावत व धर्मपुर विधायक द्बारा सभी मुद्दों पर सहमति दिलवाते हुए शीघ्र निस्तारण की बात की थी परन्तु विधान सभा मेँ केबिनेट मंत्री व सरकार द्बारा गम्भीरता ना दिखने पर कड़ी भर्त्सना करते हुए कहा कि इससे सरकार की विश्वसनीयता पर उठ रहे है़। सभी राज्य आन्दोलनकारियों ने एक सुर मेँ कहा कि यदि दिनांक 29-फरवरी तक सरकार संज्ञान नहीं लेती तो राज्य आन्दोलनकारी लामबंद होकर सडको पर आन्दोलन करने को बाध्य होगे औऱ एक नई रणनीति के तहत सरकार को चेताया जायेगा। सरकार राज्य आन्दोलनकारियों के साथ ही राज्य के हितों पर कुठाराघात करने पर तुली हुई है़।

मोके पर जगमोहन सिंह नेगी, रविन्द्र जुगरान, रामलाल खंडूड़ी, वेद प्रकाश, प्रदीप कुकरेती, धन सिंह गुसाई, डा अमर सिंह अहितान, विक्रम भंडारी, युद्धवीर सिंह चौहान, केशव उनियाल, जीत्पाल बर्त्वाल, पूरण सिंह लिंगवाल, पुष्कर बहुगुणा, विनोद असवाल, संतोष सेमवाल, प्रभात डड्रियाल, सुरेश कुमार, राकेश थपलियाल, सुरेश नेगी, देव नौटियाल, मोहन सिंह रावत, सुदेश सिंह, बीर सिंह रावत, सुमित थापा(बंटी), सतेन्द्र नोगाई, प्रेम सिंह नेगी, राकेश नौटियाल आदि उपस्थित रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here