उत्तराखंडएक्सक्यूसिवदेशदेहरादूनधर्म कर्मपर्यटन

देखिए वीडियो, जौलीग्रांट एयरपोर्ट पर गो फर्स्ट की पहली फ्लाइट को वाटर कैनन से दी गई सलामी

Listen to this article

देहरादून। कोरोनाकाल में मंदी के दौर से गुजर रहे हवाई यातायात को फिर से पंख लग गए हैं।

जिस कारण एक बार फिर बढती हवाई पैसेंजरों की संख्या के कारण देहरादून एयरपोर्ट पर फ्लाइटों को बढाया जा रहा है। बृहस्पतिवार के दिन देहरादून के जौलीग्रांट एयरपोर्ट पर पहली बार गो फर्स्ट एयर लाइंस ने अपनी तीन फ्लाइटों को शुरू किया है। जिसका शुभारंभ करते हुए पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज ने कहा कि उत्तराखंड में पर्यटन और तीर्थाटन की अपार संभावनाएं हैं। जिस कारण देहरादून एयरपोर्ट पर फ्लाइटों की संख्या को बढाया जा रहा है।

यही कारण है कि देहरादून एयरपोर्ट पर गो फर्स्ट कंपनी ने भी अपनी तीन फ्लाइटों को शुरू किया है। पहले दिन दिल्ली और मुंबई से हवाई पैसेंजरों को लेकर कंपनी का विमान निर्धारित समय पर जौलीग्रांट एयरपोर्ट पहुंचा। और देहरादून हवाई पैसेंजरों को लेकर वापस रवाना हुआ। एयरपोर्ट पहुंची पहली फ्लाइट को एयरपोर्ट के फायर क्रू ने वाटर कैनन से सलामी दी।

गो फर्स्ट कंपनी ने देहरादून एयरपोर्ट से दो उड़ानें दिल्ली की और एक मुंबई के लिए शुरू की हैं। बृहस्पतिवार को गो फर्स्ट की फ्लाइट संख्या 2301 दिल्ली से 11:30 पर उड़ान भरकर 12:15 पर जौलीग्रांट एयरपोर्ट पहुंची। और हवाई पैसेंजरों को लेकर 12:45 पर वापसी रवाना होकर 1:40 दिल्ली में लैंड हुई। कंपनी की फ्लाइट संख्या 2303 दिल्ली से 1:35 पर जौलीग्रांट के लिए रवाना हुई।

और 2:30 बजे जौलीग्रांट पहुंची। यह फ्लाइट पैसेंजरों को लेकर शाम तीन बजे वापस रवाना हुई। और 4:15 पर दिल्ली में लैंड हुई। वहीं गो फर्स्ट की फ्लाइट संख्या 2315 मुंबई से 1:50 बजे टेक ऑफ होकर शाम 4:05 बजे देहरादून एयरपोर्ट पहुंची।

और देहरादून से हवाई पैसेंजरों को लेकर 4:35 बजे वापसी को रवाना हुई। और वापस शाम सात बजे मुंबई में लैंड हुई।

एयरपोर्ट निदेशक प्रभाकर मिश्रा ने कहा कि गो फर्स्ट कंपनी की फ्लाइट सप्ताह में सभी दिन जौलीग्रांट एयरपोर्ट पर आवाजाही करेंगी। इस अवसर पर पूर्व काबीना मंत्री अमृता सिंह भी मौजूद रहीं।

जौलीग्रांट के लिए उड़ान भरने वाली गो फर्स्ट है चौथी कंपनी
डोईवाला। वर्तमान में देहरादून के जौलीग्रांट एयरपोर्ट पर लैड होने वाली गो फर्स्ट चौथी विमानन कंपनी हैं।

हांलाकि इससे पहले जौलीग्रांट एयरपोर्ट पर किंगफिशर और जेट एयरवेज की अपनी फ्लाइट संचालित कर चुके हैं। लेकिन दोनों कंपनियों के दिवालिया होने के बाद इंडिगो, स्पाइसजेट और एयर इंडिया ही जौलीग्रांट के लिए फ्लाइट संचालित कर रहे थे। अब गो फर्स्ट चौथी कंपनी है जो हर रोज जौलीग्रांट के लिए दिल्ली व मुंबई से उड़ान भरेगी।

एयरपोर्ट पर अब लैंड हो रही हैं बाइस फ्लाइट
डोईवाला। देहरादून के जौलीग्रांट एयरपोर्ट पर प्रतिदिन अब बाइस फ्लाइट आवाजाही कर रही हैं। जिससे फ्लाइटों की यह संख्या कोरानाकाल से पहले की संख्या के आसपास पहुंच गई है। वर्तमान में इंडिगो की प्रतिदिन दस फ्लाइट विभिन्न शहरों से जौलीग्रांट पहुंच रही हैं।

स्पाइसजेट की चार और एयर इंडिया की कुल पांच फ्लाइट एयरपोर्ट पहुंच रही हैं। लेकिन बृहस्पतिवार से गो फर्स्ट की तीन नई फ्लाइटों के जौलीग्रांट के लिए शुरू होने से यह संख्या बाइस पर पहुंच गई है। इसके अलावा हेली कंपनियों के चौपर, चार्टड विमान और वीवीआईपी के विमानों की संख्या अलग है।

पांच शहरों से हवाई मार्ग से जुड़ा जौलीग्रांट एयरपोर्ट
डोईवाला। देहरादून का जौलीग्रांट एयरपोर्ट इंडिगो, स्पाइसजेट, एयर इंडिया और अब गो फर्स्ट की फ्लाइट शुरू होने से दिल्ली, मुंबई, बंगलुरू, अहमदाबाद, जयपुर और पंतनगर (उत्तराखंड) के लिए सीधी उड़ान से जुड़ चुका है।

इसके अलावा कनेक्टिंग फ्लाइट की संख्या अलग है। कुल मिलाकर बढते हवाई पैसेंजरों की संख्या से विमानन कंपनियों, जौलीग्रांट एयरपोर्ट और हवाई पैसेंजरों सभी को लाभ मिल रहा है।

दिल्ली से आए 76 पैसेंजर, मुंबई से 90

डोईवाला। गो फर्स्ट की पहली फ्लाइट में दिल्ली से 76 पैसेंजरों को लेकर एयरपोर्ट पहुंची। इस फ्लाइट में कुल 101 हवाई यात्री वापस रवाना हुए। वही मुंबई से जॉलीग्रांट पहुंची फ्लाइट में कुल 90 हवाई यात्री जॉलीग्रांट पहुंचे और 124 यात्री वापस मुंबई रवाना हुए। गो फर्स्ट के मैनेजर वरुण रमयानी ने कहा कि गो फर्स्ट ने अपने 180 सीटर विमानों से देहरादून से दिल्ली व मुंबई के बीच उड़ान शुरू की है।

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!