अपराधउत्तर प्रदेशउत्तराखंडदेशदेहरादूनराजनीति

शरणार्थियों की मदद को हमेशा तैयार रहा है देश: सीएम त्रिवेंद्र ने एनआरसी और सीएए पर खुलकर रखे विचार

Listen to this article

तिब्बत, इजराइल और कई दूसरे देशों की मदद कर चुका है भारत

Uttarakhand. मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने दूधली इंटर कॉलेज के वार्षिकोत्सव में कहा कि शरणार्थियों की मदद करने में भारत हमेशा से आगे रहा है।

भारत ने तिब्बत के लोगों की पूरी मदद की है। जब इजराइल में लाखों यहूदियों को जिंदा जलाया जा रहा था। गैंस चैंबर में हजारों लोगों को मौत की नींद सुला दिया गया था। तब भारत ने आगे आकर इजराइल के लोगों की मदद की थी। इसलिए इजराइल आज कहता है कि भारत उसका स्वभाविक मित्र है। एनआरसी का विरोध करने वाली ही इसे लोकसभा में लेकर आए थे। सीएए नागरिकता देने का कानून है। इसमें नागरिकता लेने का कोई प्रावधान नहीं है। कांग्रेस और दूसरे दल जब मोदी सरकार से किसी भी मोर्चे पर नहीं जीत सके तो उन्होंने एनआरसी की आड़ में देश को दंगों की आग में झोकने का प्रयास किया है।

कहा कि हिंदुओं के साथ हिंदुस्तान खड़ा नहीं होगा तो पड़ोसी देशों से हिंदू खत्म कर दिए जाएंगे। हमे गर्व होना चाहिए कि हमने अपनों को बचाने के लिए कानून बनाया है। मुख्यमंत्री ने पुलिस, पीएसी और अद्धसैनिक बलों की तारीफ करते हुए कहा कि उत्तराखंड के लोगों ने जिस समझदारी से एनआरसी को समझते हुए धेर्य दिखाया उससे देवभूमि का नाम ऊंचा हुआ है। कहा कि देशहित में जो भी जरूरी होगा उसे लागू किया जाएगा। और कानून को हाथ में लेने वालों को कतई बक्शा नहीं जाएगा। इस अवसर पर करन बोरा, संपूर्ण रावत, अनुकृति गोसाई, राजकुमार, जितेंद्र मोनी, श्रवण प्रधान, दिनेश सजवाण, ममता नयाल, चंद्रकला ध्यानी, सुदंरदास आदि उपस्थित रहे।

 

उत्तराखंड बोर्ड के टॉपरों को कराएंगे देश-दर्शन यात्रा

डोईवाला। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह ने कहा कि उत्तराखंड बोर्ड की परीक्षा में टॉप 25 में आने वाले सभी विद्यार्थियों को देश दर्शन यात्रा के तहत हवाई, रेल और समुद्री यात्राएं करवाई जाएंगी। इससे बच्चों को भारत की संस्कृति और सभ्यता को समझने में मदद मिलेगी।

डोईवाला के लिए सीएम की घोषणाएं

डोईवाला। मुख्यमंत्री ने कहा कि डोईवाला को विकास के मामले में सबसे आगे रखा जाएगा। दूधली में दो पेयजल नलकूप, दूधली मार्ग का चौड़ीकरण, बुल्लावाला में जाखन पुल बनाया जाएगा। कहा कि सिंधवाल गांव और चांडी में पुल बनाने का कार्य पूरा हो चुका है। सुसवा नदी को स्वच्छ बनाया जाएगा। और यहां बहुउद्देशीय सभागार का निर्माण करवाया जाएगा।

Related Articles

One Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
error: Content is protected !!