Uncategorized

ओला टैक्सी मामले में आर-पार की लड़ाई का एलान

खबर को सुने

जौलीग्रांट। एयरपोर्ट पर ओला रेडियो टैक्सी का मामला सरकार तक पहुंच गया है।

एयरपोर्ट टैक्सी यूनियन और दूसरे यूनियनों के पदाधिकारियों ने परिवहन मंत्री यशपाल आर्य से मिलकर समस्याएं रखी। यूनियन अध्यक्ष संजय सिंधवाल ने कहा कि बिना राज्य सरकार की अनुमति के ओला कंपनी ने एयरपोर्ट के अंदर अपना काउंटर खोल रखा है। यदि एयरपोर्ट पर ओला कंपनी को टैक्सी संचालन की अनुमति दी गई तो इससे सैकड़ों परिवारों के सामने रोजी-रोटी का संकट खड़ा हो जाएगा। राज्य सरकार पहाड़वासियों को स्वरोजगार से जुड़ने पर जोर दे रही है। लेकिन जिन लोगों ने टैक्सी चलाने को स्वरोजगार बनाया है अब उनके पेट पर लात मारी जा रही है।

परिहवन मंत्री को ज्ञापन देते हुए कहा गया कि यदि उनसे उनका रोजगार छिनकर किसी बाहर की कंपनी को दिया गया तो मजबूरन टैक्सी ड्राईवरों को क्षेत्रवासियों के साथ मिलकर लड़ाई लड़नी पड़ेगी। इससे तीर्थाटन और पर्यटन दोनों प्रभावित होंगे। इसलिए उनकी मांगों को माना जाना चाहिए। उधर परिवहन मंत्री ने उन्हे उचित कार्रवाही का आश्वासन दिया है। परिवहन मंत्री से मिलने वालों में दिनेश कोठियाल, रोशन सेनी, महमूद असन, दीपक मैंसी, सुंदर सिंह पंवार आदि शामिल रहे।

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Check Also
Close
Back to top button
error: Content is protected !!