Uncategorizedउत्तराखंडदेहरादूनराजनीति

यूकेडी ने फैक्ट्री कर्मचारियों के साथ तहसील में प्रदर्शन किया

खबर को सुने
डोईवाला। उत्तराखंड क्रांति दल के नेतृत्व में आज बिरला यामा पावर सॉल्यूशन के कर्मचारियों ने उपजिलाधिकारी कार्यालय पर जोरदार प्रदर्शन कर नारेबाजी करते हुए मुख्यमंत्री को उपजिलाधिकारी के माध्यम से ज्ञापन दिया।
यूकेडी ने कहा कि डोईवाला के लालतप्पड़ स्थित बिरला फैक्ट्री पर कर्मचारियों का करोड़ों रुपया बकाया है। फैक्ट्री बंद होने पर देनदारी के चलते प्रशासन फैक्ट्री को सील करके नीलामी के लिए लिक्विडेटर नियुक्त कर दिया था। लेकिन फैैक्ट्री से लगभग 65करोड़ रूपए की भारी-भरकम मशीनरी चोरी हो गई।
यह मशीनें बिना जेसीबी और क्रेन की मदद के नहीं निकाली जा सकती थी। उत्तराखंड क्रांति दल के पूर्व अध्यक्ष तथा संरक्षक बीडी रतूड़ी ने कहा कि उत्तराखंड क्रांति दल कर्मचारियों के हितों की लड़ाई लड़ेगा।
यूकेडी नेता शिव प्रसाद सेमवाल ने कहा कि यह चोरी सबसे बड़ी चोरी है। लेकिन शासन प्रशासन की चुप्पी हैरत जनक है। डीएम काला ने कहा कि एक बार फैक्ट्री सील होने और लिक्विडेटर बिठाए जाने के बाद सारी जिम्मेदारी लिक्विडेटर और शासन प्रशासन की बनती है।
ऐसे में प्रशासन को इस पर कार्यवाही करनी चाहिए ताकि फैक्ट्री कर्मचारियों को जल्दी से जल्दी उनका हक मिल सके। वीरेंद्र थापा ने कहा कि कर्मचारी अपना काम करता है। मैनेजमेंट और शासन प्रशासन की गलती का नुक्सान कर्मचारियो को नही भुगतना चाहिए। अरविंद बिष्ट ने सभी कर्मचारियों से एकजुट होकर लड़ाई लड़ने का आह्वान किया।
और आंदोलन को सुचारू रूप से चलाने के लिए एक कमेटी बनाने का भी सुझाव दिया जिसे सभी कर्मचारियों ने तत्काल मान लिया उप जिलाधिकारी कार्यालय के पास जमकर नारेबाजी करने के बाद सभी कर्मचारियों ने तहसीलदार के माध्यम से मुख्यमंत्री को ज्ञापन सौंपा। और वहीं पर एक सभा का भी आयोजन किया।
मौके पर जोत सिंह गुसाईं ,अवतार सिंह बिष्ट,पिंकी थपलियाल’ सीमा रावत, धनवीर सिह रावत, प्रमोद डोभाल, सुरेंद्र चौहान, बालम सिंह रावत, शैलेंद्र सिंह नेगी, मोहन सिंह रावत, अजय गोस्वामी, रामेश्वर पांडेय आदि उपस्थित रहे।

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!