उत्तराखंडदेहरादूनराजनीतिराज्यस्वास्थ्य और शिक्षा

वन दरोगा चयनित अभ्यर्थियों ने सीएम धामी से की मुलाकात

डोईवाला। वन दरोगा चयनित अभ्यर्थियों ने मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी से वन दरोगा

भर्ती-2019 के संबंध में मुलाकात की।
अभ्यर्थियों ने उत्तराखंड अधीनस्थ सेवा चयन

आयोग के भर्ती निरस्तीकरणी के निर्णय को अव्यावहारिक व अन्यायपूर्ण बताया।

अभ्यर्थियों का कहना है कि आनलाइन माध्यम में संपन्न भर्ती को निरस्त करने से जहां

अभ्यर्थियों के समय और पैसों की बर्बादी होती है। वहीं डिजिटलीकरण की ओर जा रहे

सुधारात्मक पहलों को झटका लगता है, यही कारण है कि आफलाईन परीक्षाओं में पेपर

लीक के प्रकरण थमने का नाम नहीं ले रहे हैं। सितम्बर से वन दरोगा भर्ती में अभी तक मात्र 8

नकलचियों के नाम सामने आए हैं। जिसका कारण परीक्षा में उपलब्ध तकनीकी सहयोग

(सीसीटीवी,माउस क्लीकिंग पैटर्न इत्यादि) हैं। आनलाईन मोड होने के कारण व्यापक स्तर पर

नकल न होने की खबर की पुष्टि पूर्व एसटीएफ एसएसपी अजय सिंह द्वारा स्वयं की गई।

अभ्यर्थियों ने मुख्यमंत्री को ज्ञापन सौंप भर्ती परीक्षा में न्याय की गुहार लगाई है।

जिस पर मुख्यमंत्री धामी द्वारा इस पर विचार करने को कहा गया।ज्ञापन सौंपने वाले चयनित

अभ्यर्थियों में योगेश, इप्सा, पारिशी, स्मृति एवं आशीष आदि शामिल रहे।

ये भी पढ़ें:  कृषि मंत्री गणेश जोशी ने नव निर्मित कृषक सामुदायिक केंद्र का किया लोकार्पण, नैनबाग क्षेत्र को फल पट्टी घोषित करने की घोषणा

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!