उत्तराखंडदेशदेहरादूनधर्म कर्मपर्यटनराज्य

होमगार्ड सैनिक सम्मेलन का देहरादून में आयोजन-  इन होमगार्ड को कमाण्डेन्ट जनरल होमगार्ड डिस्क मेडल की हुई घोषणा

होमगार्ड स्वयंसेवकों के प्रशिक्षण को 7.62 एसएलआर और पिस्टल क्रय करने की तैयारी

Dehradun. आई.पी.एस., कमाण्डेन्ट जनरल होमगार्ड केवल खुराना उत्तराखण्ड की अध्यक्षता में शनिवार को अपरान्ह् 01.00 बजे होमगार्ड्स एवं नागरिक सुरक्षा मुख्यालय, ननूर खेड़ा, देहरादून में ‘‘होमगार्ड सैनिक सम्मेलन’’ का आयोजन किया गया।

होमगार्ड सैनिक सम्मेलन का मुख्य उद्देश्य होमगार्ड विभाग एवं स्वयंसेवकों की राज्यस्तर पर प्रसारित छवि को बेहतर बनाने, स्वयंसेवकों के मनोबल में वृद्धि, बेहतर टर्नऑउट के साथ कर्तव्यों के निर्वहन, विभागीय सुविधाओं, योजनाओं की जानकारी एवं स्वयंसेवकों की समस्याओं के तत्समय समाधान है।

सैनिक सम्मेलन में जनपद हरिद्वार, टिहरी एवं देहरादून के 350 होमगार्ड स्वयंसेवकों द्वारा प्रतिभाग किया गया। सैनिक सम्मेलन में कमाण्डेन्ट जनरल होमगार्ड केवल खुराना द्वारा होमगार्ड स्वयंसेवकों से सीधा संवाद किया गया। सम्मेलन में होमगार्ड स्वयंसेवकों को दी जा रही सुविधायें जैसे मृतक आश्रित भर्ती, दुर्घटना बीमा के लिये विभिन्न बैंकों से सैलरी एकाउन्ट खुलवाया जाना, विभागीय मोनोग्राम को लगाया जाना एवं विभिन्न राज्य के परिदृश्य पर विस्तृत छवि बनाये जाने के लिये किये जा रहे प्रयासों के बारे में अवगत कराया गया।

कमाण्डेन्ट जनरल होमगार्ड द्वारा जनपद हरिद्वार में त्रिस्तरीय पंचायत निर्वाचन-2022 को सकुशल सम्पन्न करवाने में होमगार्ड स्वयंसेवकों की प्रशंसा की गयी।

कमाण्डेन्ट जनरल होमगार्ड द्वारा कई होमगार्ड स्वयंसेवकों द्वारा की जा रही ड्यूटीयों के सम्बन्ध में पृक्षा की गयी एवं निर्देश दिया कि वर्दीधारी कार्मिक होने के अनुरूप ड्यूटीयां की जाये। कतिपय होमगार्ड स्वयंसेवकों द्वारा अवगत कराया गया कि वर्षभर ड्यूटीयां नहीं मिल पा रही हैं, जिस पर उन्हें अवगत कराया गया कि जनपद स्तर पर ड्यूटीयों की मॉग के अनुसार रोटेशन के आधार पर ड्यूटीयां लगाई जा रही हैं।

कुछ होमगार्ड स्वयंसेवकों द्वारा अवगत कराया गया कि अन्य प्रतिष्ठान ड्यूटीयों के एरियर भुगतान नहीं किया गया है। इस सम्बन्ध में उन्हें अवगत कराया गया कि ऐसे प्रतिष्ठानों में स्वयंसेवकों की ड्यूटीयां रोक दी गयी हैं एवं आवश्यक कार्यवाही की जा रही है।

महिला होमगार्ड सारिका पाल तथा कलम सिंह देहरादून ने प्रशिक्षण भत्ते को ड्यूटी भत्ते के बराबर करने, होमगार्ड अफसरा नाज़ देहरादून ने अकेले ड्यूटी प्वांइट पर वायरलेस सैट देने, होमगार्ड मनोज कुमार, टिंकू पंवार हरिद्वार ने वालीबॉल, कबड्डी आदि खेलों में विभागीय टीमें बनाये जाने, महिला होमगार्ड सुश्री सोनिया हरिद्वार ने योग को प्रसारित करने, सुश्री कमलेस हरिद्वार ने जल होमगार्ड की टीम बनाये जाने, श्री संजय पोखरियाल देहरादून ने अवकाश दिये जाने आदि के सुझाव दिये।

कमाण्डेन्ट जनरल होमगार्ड द्वारा होमगार्ड ड्यूटीयों में अपेक्षित सुधार लाने हेतु प्रशिक्षण पर समेकित ध्यान देने पर जोर दिया, जिसमें होमगार्ड के कार्मिकों एवं स्वयंसेवकों के प्रशिक्षण हेतु बनाये गये मॉड्यूल में आमूल-चूल बदलाव लाने, 7.62 एस.एल.आर. रायफलों से ड्रिल तथा फायरिंग कराने एवं छोटे हथियार जैसे पिस्टल आदि से फायरिंग अभ्यास कराने के निर्देश दिये गये।

कमाण्डेन्ट जनरल होमगार्ड द्वारा खेलों की टीमें बनाये जाने, खोज एवं बचाव कार्यों हेतु जल होमगार्ड टुकड़ी बनाये जाने तथा योग को प्रोत्साहित करने के सम्बन्ध में दिये सुझावों को बेहतरीन बताया एवं महिला होमगार्ड सुश्री कमलेश को खोज एवं बचाव कार्यों हेतु जल होमगार्ड टुकड़ी तैयार करने, टिंकू पंवार को होमगार्ड स्वयंसेवकों की फिटनेस हेतु टीम तैयार करने तथा सुश्री सोनिया को होमगार्ड स्वयंसेवकों की मानसिक फिटनेस हेतु योग टीम तैयार करने को निर्देशित किया।

मुख्यालय स्तर पर गठित समिति द्वारा बेहतर टर्नऑउट वाले जनपद देहरादून के 05 होमगार्ड जगमोहन सिंह, प्रताप सिंह, सूरज यादव, महिला होमगार्ड कनिका नेगी, रेनू तथा बेहतर कार्य करने के लिये होमगार्ड उदय कुमार देहरादून, महिला होमगार्ड सोनिया हरिद्वार को योग के माध्यम से अन्य को प्रशिक्षित करने के लिये तथा होमगार्ड कलम सिंह देहरादून को बेहतर टर्नऑउट के लिये कमाण्डेन्ट जनरल होमगार्ड डिस्क मेडल दिये जाने की घोषणा की गयी।

सैनिक सम्मेलन के बाद खेलों का आयोजन किया गया, जिसमें कबड्डी, रस्साकस्सी तथा दौड़ का आयोजन किया गया। जनपद हरिद्वार तथा देहरादून की 02 टीमों के मध्य कबड्डी खेल का आयोजन किया गया, जिसमें से जनपद हरिद्वार की विजेता वाली टीम को कमाण्डेन्ट जनरल होमगार्ड खुराना द्वारा नगद पुरूस्कार दिया गया।

होमगार्ड स्वयंसेवकों के प्रशिक्षण हेतु 7.62 एस.एल.आर. एवं पिस्टल क्रय की जा रही है। इसके अतिरिक्त नागरिक सुरक्षा के 140 वार्डनों की नयी भर्ती किये जाने तथा उनके द्वारा चिकित्सा शिविर एवं रक्तदान शिविर निरन्तर आयोजित करने हेतु निर्देशित किया गया है। शासन स्तर पर गतिमान विभागीय प्रकरणों पर प्रभावी कार्यवाही करने हेतु निर्देशित किया गया है।

कमाण्डेन्ट जनरल होमगार्डा ने अपने सम्बोधन में होमगार्ड स्वयंसेवकों को ड्यूटी के प्रति सचेत रहने, वर्दी के अनुरूप ड्यूटी करने, अपने टर्नऑउट को बेहतर करने, दिये गये आदेशों का पालन करने तथा अपनी समस्याओं को जिला कमाण्डेन्ट एवं उच्चाधिकारियों के माध्यम से निस्तारित करने के लिये निर्देशित किया।

ये भी पढ़ें:  बीकेटीसी अध्यक्ष अजेंद्र अजय के प्रयासों से कर्मचारियों को गोल्डन कार्ड कैशलेश इलाज की सुविधा

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!