उत्तराखंडदेहरादूनधर्म कर्मपर्यटनराज्य

जोशीमठ- अब तक 258 परिवारों के 865 लोगों को सुरक्षित स्थानों पर किया अस्थायी विस्थापित

Listen to this article

जोशीमठ। जोशीमठ नगर क्षेत्र में भू-धंसाव को लेकर जिला आपदा प्रबंधन प्राधिकरण चमोली

द्वारा जारी दैनिक रिपोर्ट के अनुसार जोशीमठ नगर क्षेत्र के 9 वार्ड में 849 भवन प्रभावित हुए है।

जिनमें दरारें मिली है। इसमें से 181 भवन ऐसे हैं जिनको असुरक्षित जोन के अंतर्गत रखा गया है।

सुरक्षा की दृष्टि से जिला प्रशासन द्वारा अबतक 258 परिवारों के 865 व्यक्तियों को विभिन्न

सुरक्षित स्थानों पर अस्थायी रूप से विस्थापित किया गया है।

जिला प्रशासन द्वारा जोशीमठ नगर क्षेत्र के अंतर्गत निवास करने योग्य अस्थायी राहत

शिविरों के रूप में 83 स्थानों में 615 कक्षो का चिह्नीकरण कर लिया गया है।

जिसमे 2190 व्यक्तियों को ठहराया जा सकता है। वहीं नगर पालिका क्षेत्र जोशीमठ के बाहर

पीपलकोटी में अस्थायी राहत शिविरों के रूप में 20 भवनों के 491 कमरों को चयनित किया

गया है जिसमे कुल 2205 लोगों को ठहराया जा सकेगा।

राहत कार्यो के तहत जिला प्रशासन द्वारा अबतक 500 प्रभावितों को 327.77 लाख

रुपये की धनराशि प्रभावित परिवारों में वितरित की जा चुकी है।

प्रभावितों को अबतक 708 खाद्यान किट, 531 कंबल व 926 लीटर दूध, 55 हीटर/ब्लोवर, 79

डेली यूज किट, 48 जोडी जूते, 110 थर्मल वियर, 171 हाट वाटर वोटल, 458 टोपी, 280

मौजे, 149 साल एवं 262 अन्य सामग्री का वितरण राहत सामग्री के रूप में किया जा चुका

है इसके अलावा स्वास्थ्य विभाग द्वारा निरंतर प्रभावितों का स्वास्थ्य परीक्षण किया जा रहा है।

जिसके तहत राहत शिविरों में रह रहे 707 से अधिक लोगों का स्वास्थ्य परीक्षण किया जा

चुका है। प्रभावित क्षेत्रों में 51 पशुओं का स्वास्थ्य परीक्षण और 50 पशु चारा बैग वियरण का किया गया।

जिला मजिस्ट्रेट चमोली द्वारा आपदा प्रबंधन अधिनियम की धारा 33 व 34 का प्रयोग करते

हुए नगर क्षेत्र अंतर्गत वार्ड संख्या 1, 4, 5 व 7 के अंतर्गत आने वाले अधिकांश क्षेत्रो को

असुरक्षित घोषित करते हुए इन वार्डों को खाली करवाया गया है।

ललिता प्रसाद लखेड़ा

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!