उत्तराखंडकृषिदेहरादूनराजनीतिराज्य

डोईवाला में पेराई सत्र समाप्ति का तीसरा आखिरी नोटिस जारी, जल्दी मिल को गन्ना दें किसान

देहरादून। डोईवाला में पेराई सत्र समाप्ति का तीसरा और आखिरी नोटिस जारी कर दिया गया है। जिस कारण मिल प्रशासन ने किसानों को जल्द से जल्द मिल को गन्ना देने की अपील की है।

तीसरे नोटिस को जारी करते हुए डोईवाला शुगर कम्पनी लिमिटेड, डोईवाला ने गन्ना आपूर्ति करने वाले किसानों से कहा है कि आयुक्त, गन्ना विकास एवं चीनी उद्योग उत्तराखण्ड द्वारा वर्तमान पेराई सत्र 2023-24 को चीनी मिल को मिल गेट के अतिरिक्त 54 वाह्य गन्ना क्रय केन्द्र सुरक्षित/अभ्यर्पित किये गये थे।

अधिशासी निदेशक दिनेश प्रताप सिंह।

जिसमें देहरादून की डोईवाला समिति के 5, देहरादून समिति के 20, जनपद-हरिद्वार की ज्वालापुर समिति के 6, इकबालपुर (रूड़की) समिति के 20, लक्सर समिति का 1 व हिमाचल प्रदेश की पांवटा समिति के 2 गन्ना क्रय केन्द्रों को संचालित किया गया था।

मुख्य गन्ना प्रबन्धक द्वारा प्रस्तुत रिपोर्ट दिनांक 04.03.2024 में  बताया गया है कि समस्त क्रय केन्द्रों से सम्पूर्ण गन्ना क्रय करने के बाद इकबालपुर (रूड़की) समिति के 20, ज्वालापुर समिति के 06, लक्सर समिति का 01, देहरादून समिति के 20 और डोईवाला समिति के 05 वाह्य गन्ना क्रय केन्द्रों को बन्द कर दिया गया है।

पिछले कई दिनों से मिल गेट को फ्री करने के बाद भी मिल को प्रतिदिन पेराई योग्य पर्याप्त मात्रा में गन्ना उपलब्ध नहीं हो पा रहा है। जिससे स्पष्ट है कि अधिकांश कृषकों के पास गन्ना उपलब्ध नहीं है और क्षेत्र में बहुत कम मात्रा में गन्ना है।

जिसको मिल हित में अतिशीघ्र आपूर्ति करवाना आवश्यक है। अनुमान है कि संचालित मिल गेट पर उपलब्ध अवशेष गन्ने की पेराई चीनी मिल दिनांक 06.03.2024 तक पूर्ण कर ली जाएगी।

ये भी पढ़ें:  मां के नाम पर पेड़ लगाकर किया महाकाल वाटिका का निर्माण

चीनी मिल के अधिशासी निदेशक दिनेश प्रताप सिंह ने चीनी मिल को गन्ना आपूर्ति करने वाले सभी कृषको से कहा है कि किसानों के पास  आपूर्ति के लिए जो गन्ना बचा है, उसकी आपूर्ति चीनी मिल को दिनांक 06.03.2024 तक अनिवार्य रूप से कर दे।

दिनांक 06.03.2024 के बाद चीनी मिल के पेराई सत्र 2023-24 को बन्द कर दिया जाएगा।

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!