उत्तराखंडदेहरादूनराजनीतिराज्यस्वास्थ्य और शिक्षा

नर्सिंग भर्ती में “बाहरी राज्यों के आवेदकों” के विरोध में “आंदोलन की चेतावनी”

देहरादून। संविदा एवं बेरोजगार स्टाफ नर्सेज महासंघ उत्तराखंड का प्रतिनिधिमंडल ने

भानियावाला में भारतीय जनता पार्टी के जिला अध्यक्ष रविंद्र सिंह राणा से मुलाकात की।

संगठन के प्रदेश अध्यक्ष हरिकृष्ण बिजलवान द्वारा बताया गया कि उनकी नर्सिंग की भर्ती 12

वर्षों बाद 3 जनवरी 2023 को विज्ञापित की गई। लेकिन इस भर्ती में कुछ बाहरी राज्य के

लोगों द्वारा फर्जी स्थाई निवास बनाकर आवेदन किया जा रहा है। और कुछ बाहरी राज्यों के

युवकों द्वारा उच्च न्यायालय में केस दायर कर नर्सिंग अधिकारी के पदों पर आवेदन करने की

अनुमति मांगी है। जिसमें कि न्यायालय द्वारा ऐसे व्यक्तियों को प्रोविजनल तौर पर परमिट

कर दिया है। जिसका उनका संगठन पुरजोर विरोध करता है। और वो अपने सभी

जनप्रतिनिधियों से यह आग्रह करते हैं कि सरकार समूह ग के पदों पर बाहरी राज्यों के

आवेदन स्वीकार न करें। यदि नर्सिंग अधिकारियों के पदो पर बाहरी राज्यों के

आवेदन स्वीकार किए जाएंगे तो संगठन पूरे प्रदेश में उग्र आंदोलन करेगा। और अपने

उत्तराखंड के लोगों और यहां की जनता और बेरोजगारों के हितों की लड़ाई के लिए सड़कों

पर आंदोलन करेगा। जिलाध्यक्ष द्वारा इस पर सकारात्मक कार्रवाई का आश्वासन दिया गया

कि न्यायालय में सरकार मजबूती से अपने प्रदेश के बेरोजगारों के हितों में खड़ी रहेगी।

और किसी भी बाहरी राज्यों के आवेदकों को इसमें आवेदन की अनुमति नहीं दी जाएगी।

मिलने वाले प्रतिनिधिमंडल में संगठन के कोषाध्यक्ष रवि सिंह रावत, महीपाल सिंह

कृषाली, मीनाक्षी ममगाई, नीरज वर्मा आदि लोग उपस्थित रहे।

ये भी पढ़ें:  अस्पताल में भर्ती भाजपा विधायक का सीएम धामी ने जाना हाल

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!