उत्तराखंडएक्सक्यूसिवदेहरादूनराजनीतिस्वास्थ्य और शिक्षा

बैकफुट पर सरकार: अस्पतालों में बढ़े हुए शुल्क होंगे वापस

कांग्रेस ने नारेबाजी के साथ फूंका मुख्यमंत्री का पुतला

देहरादून। सरकारी अस्पतालों में शुल्क वृद्धि का फैसला राज्य सरकार के गले की फांस बन गया है।

जनता के रोष और कांग्रेस के भारी प्रदर्शन के कारण सरकार ने अस्पतालों में बढ़े हुए शुल्क वापस लेने की बात कही है। इस संबध में स्वास्थ अधिकारियों को निर्देश दे दिए गए हैं। अस्पतालों में ओपीडी पर्ची 7 रुपये से बढ़ाकर 40 रुपये की कर दी है। औऱ अल्ट्रासाउंड 471 रुपये से बढ़ाकर 700 रुपये कर दिए हैं। अन्य टेस्टों में भी भारी बढ़ोतरी, और साथ ही मरीज भर्ती शुल्क 50 रुपये से बढ़ाकर 100 रुपये कर दिया गया है। जिसकों लेकर कांग्रेस ने भाजपा पर बुरी तरह हमले तेज कर दिए थे। शनिवार को सुबह डोईवाला के सरकारी अस्पताल में धरने के बाद यूथ कांग्रेस विस अध्यक्ष राहुल सैनी के नेतृत्व में नगर चौक पर मुख्यमंत्री का फिर पुतला दहन कर नारेबाजी की गई।

नगर अध्यक्ष राजवीर खत्री और मोहित उनियाल ने कहा कि मुख्यमंत्री ने कुर्सी संभालते ही डोईवाला के सरकारी अस्पताल को निजी हाथों में सौंप दिया। और अब चीनी मिल की बारी है। अस्पतालों में शुल्क वृद्धि पर भी मुख्यमंत्री ने अपनी मनमानी की है। लेकिन अब मुख्यमंत्री को उन्ही की विधानसभा में काले झंड़े दिखाए जाएंगे। मौके पर मनोज नौटियाल, गौरव मल्होत्रा, मनीष यादव, मधु थापा, भारत भूषण, सभासद बलविंदर सिंह, मनोज नेगी, स्वतंत्र बिष्ट, संदीप पुंडीर, विमल गोला, सुभाष सेमवाल, पुष्पेंद्र चौधरी, रोहन कुमार, सावन राठौर, हर्षित उनियाल, अनुज कन्नोजिया आदि उपस्थित रहे।

पंचायतों में न बिगड़ जाए खेल इसलिए दिए रेट कम करने के निर्देश

देहरादून। जनता के भारी रोष और कांग्रेस के दमदार प्रदर्शन के कारण राज्य सरकार को पंचायत चुनाव में अपना खेल बिगड़ने का डर सता रहा है। जिस कारण मुख्यमंत्री के ओएसडी धीरेंद्र पंवार ने भाजपा सभासद और कार्यकर्ताओं के अनुरोध व ज्ञापन के बाद डीजी हेल्थ और स्वास्थ सचिव को दरें कम करने को कहा है। कांग्रेस को फायदा न मिल जाए इसलिए भाजपाईयों ने खुद ही इस मामले में पहल की है। ये पहला मामला है जब भाजपा कार्यकताओं की तुरंत सुनी गई है। ज्ञापन देने वालों में विनीत मनवाल, सभासद हिमांशु राणा, संदीप सिंह नेगी, प्रदीप नेगी, राजेश भट्ट, विनीत मनवाल, राकेश डोभाल, मनवर नेगी, विक्रम नेगी, अवतार सिंह सैनी, रामेश्वर लोधी मौजूद रहे।

ये भी पढ़ें:  सीएम धामी ने यमुनोत्री धाम की धारण क्षमता बढ़ाने के लिए कार्ययोजना तैयार करने के दिए निर्देश, चारधाम यात्रा प्रबंधन प्राधिकरण के गठन के लिए कार्रवाई तेज करने के निर्देश

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Content is protected !!