उत्तराखंडदेहरादूनधर्म कर्मपर्यटनराजनीति

सीएम रावत की इच्छा है स्वच्छ ‘रिस्पना’ में नहाना

Listen to this article

ड्रीम प्रोजेक्ट पूरा होने पर काफी प्रसन्न दिखे मुख्यमंत्री

चंद्रमोहन कोठियाल

डोईवाला। सूर्यधार झील प्रोजेक्टर पूरा होने पर मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत काफी प्रसन्न दिखे।

जिस कारण उन्होंने दिल खोलकर जनता के सामने अपने मन की बातें रखी। सीएम ने कहा कि रिस्पना नदी आज काफी गंदी है। लेकिन उनका संकल्प है कि रिस्पना नदी को स्वच्छ किया जाए। और एक दिन ऐसा आए कि वो रिस्पना के स्वच्छ जल में स्नान कर सकें।

मुख्यमंत्री ने सूर्यधार झील के लोकार्पण के मौके पर एक खास बात और कही, उन्होंने कहा कि पूरे प्रदेश में खासकर पहाड़ी जिलों में सिर पर घास लाते वक्त कई महिलाओं की असमय मौत हो जाती है।

अगला प्रयास उनकी सरकार का होगा कि पहाड़ की महिलाओं को इस घास के बोझ से मुक्त किया जाएगा। इस बारे में लगातार अधिकारियों और दूसरे लोगों से बातचीत चल रही है। मौके पर मौजूद जिओ कंपनी के अधिकारियों को सूर्यधार में नेटवर्क लगाने को निर्देश भी दिए। सीएम ने झील में नौकायन करते हुए मछली के बीच भी फेंके।

सिंचाई विभाग द्वारा 262.72 लाख से सुसवा नदी के दाए किनारे लाल माटी खाले से बडकली पुल तक सुरक्षात्मक कार्य, 231.07 लाख से सिमलासग्रांट नहर का विस्तारीकरण और 185.27 लाख से रायपुर के बांदल नदी पर सरखेत ग्राम की बाढ सुरक्षा का शिलान्यास भी सूर्यधार में किया गया। कार्यक्रम में कोटीमयचक, धारकोट आदि स्थानों के महिला स्वयं समूहों को भी सम्मानित किया गया।

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!