उत्तराखंडदेहरादूनस्वास्थ्य और शिक्षा

रौपे गए पौधों की चार वर्ष तक देखभाल जरूरी: प्राचार्य नैनवाल

Listen to this article

डोईवाला। शहीद दुर्गा मल्ल राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय डोईवाला में हरेला पर्व के शुभ अवसर पर विभिन्न प्रजातियों के पौधों का रोपण किया गया।

जिसमें प्रमुख रुप से प्लूमेरिया, आम, लेजरस्ट्रोमियां, नीम और आंवला शामिल रहे। महाविद्यालय के प्राचार्य प्रोफेसर डीसी नैनवाल ने कहा कि हमें वृक्षारोपण कार्यक्रम के साथ-साथ इनके संरक्षण पर भी ध्यान देना चाहिए। और लगाए हुए वृक्षों को कम से कम 4 वर्षों तक देखभाल करनी चाहिए।

महाविद्यालय के सभी प्राध्यापकों एवं शिक्षणेत्तर कर्मचारियों द्वारा पौधों का रोपण किया गया। इस अवसर पर डॉ आर एस रावत, डॉ एन डी शुक्ला, डॉक्टर कंचन लता सिन्हा, डॉक्टर राखी पंचोला, डॉक्टर बल्लरी कुकरेती, डॉक्टर बंदना गौड़, डॉक्टर पूनम पांडे,डॉक्टर नूर हसन, डॉक्टर पल्लवी मिश्रा, डॉक्टर अंजली वर्मा ,डॉ एसके कुड़ियाल, विनोद कुमार,रामलाल, शोभा देवी, ममता, कृष्णानंद गोस्वामी एवं बृजमोहन आदि उपस्थित रहे।

राजकीय प्राथमिक विद्यालय रामगढ़ और पीआईसी डोईवाला, धारकोट में भी वृक्षारोपण किया गया। यूकेडी ने थानों, बडकोट, कुडियाल गांव में पौधे लगाए। दूधली क्षेत्र की महिला मंगल दल अध्यक्ष सुषमा बोरा ने भी वृक्षारोपण किया।

मौके पर यूकेडी नेता शिवप्रसाद सेमवाल, ग्राम प्रधान हंसा देवी, मोहित उनियाल, प्रधानाध्यापक अरविन्द सोलंकी, अश्विनी गुप्ता, विवेक बधनी, भुवनेश वर्मा, आलोक जोशी, सहायक अध्यापिकाएं रुचि सेमवाल, मीना घिल्डियाल, उषा चौधरी आदि उपस्थित रही।

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!