उत्तराखंडदेहरादूनराजनीति

झंड़ा सत्याग्रह के कारण गुलाब सिंह लोधी को अंग्रेजों ने मारी थी गोलियां

खबर को सुने

डोईवाला। अखिल भारतीय लोधी राजपूत महासभा उत्तराखंड के तत्वावधान में स्वतंत्रता संग्राम के सत्याग्रह आंदोलन 1935 के नायक अमर शहीद गुलाब सिंह लोधी का 84 वा बलिदान दिवस मनाया गया।

राष्ट्रीय तिरंगा दिवस के रूप श्रद्धा सुमन अर्पित करते हुए आयोजित कार्यक्रम में महासभा के पदाधिकारियों और सदस्यों ने श्रद्धांजलि दी। महासभा के प्रदेश अध्यक्ष अजय राजपूत ने कहा कि शहीद गुलाब सिंह का  जन्म उत्तर प्रदेश में उन्नाव जिले के गांव चण्डिकाखेड़ा में किसान साहूकार रतन सिंह लोधी के यहां हुआ था।

झंडा सत्याग्रह आंदोलन में भाग लेने के लिए लखनऊ पहुँचे गुलाब सिंह लोधी ने अंग्रेजी सेना के आंखों में धूल झोंक कर अमीनाबाद पार्क में एक पेड़ पर छिपकर बैलों के हाकने वाले डंडे में छिपाकर रखे तिरंगे को डालकर तिरंगा लहराया था।

जिस कारण अंग्रेजी हुकूमत ने गोलियों का शिकार होकर वो शहीद हो गए। कार्यक्रम में संजीव कुमार लोधी, वेद प्रकाश लोधी प्रदीप, गब्बर सिंह लोधी, अमर सिंह वर्मा, विवेक राजपूत, विजेंद्र सिंह लोधी, अभिषेक लोधी, सुशील वर्मा, नागेंद्र सिंह लोधी आदि शामिल रहे।

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!