अपराधउत्तराखंडदेहरादूनराजनीतिस्वास्थ्य और शिक्षा

शराब ठेके के गोदाम में दोबारा सील लगाने पहुंचा आबकारी विभाग

Listen to this article

लॉक डाउन में दोगुने से अधिक दामों में शराब बेचकर काटी चांदी

देहरादून। डोईवाला में शराब ठेके के गोदाम में आबकारी विभाग ने दोबारा सील लगाई है।

प्रशासन के निर्देश पर आबकारी विभाग ने देशी शराब के ठेके के गोदाम पर दोबारा सील लगाई है। इस बार आबकारी विभाग ने गोदाम के ताले पर डबल सील लगाई है। आबकारी विभाग ने मौके पर पहुंचकर लॉक डाउन के शुरू होने के दौरान लगाई सील की जांच में पाया कि गोदाम के ताले में लगाई गई सील में छेद किया गया है।

जिससे इस बात की पूरी संभावनाएं हैं कि सील में बड़ी सफाई से ताला खोलकर लॉक डाउन के दौरान शराब बाहर निकाली गई है। इसी कारण आबकारी विभाग को शराब गोदाम के ताले में दोबारा सील लगानी पड़ी है।

लॉक डाउन के दौरान डोईवाला में भी शराब की जमकर काला बाजारी हुई है। लॉक डाउन के दौरान दोगुने से भी अधिक दामों पर शराब बेची गई।  अवैध शराब का कारोबार गांव की गलियों तक फैला हुआ है। दोगुने और तीन गुने दामों पर शराब को खुलेआम बेचा गया। जिससे पैसे वाले शराब के शौकीने ने लॉक डाउन में भी अपने गले तर किए।

लॉक डाउन में जब सभी शराब ठेके, गोदाम, बार आदि को सील किया था तो इतनी बड़ी मात्रा में शराब हर क्षेत्र और गांव में कहां से आई ये बड़ा सवाल है। शराब के शौकीनों को शांत रखने और डॉक डाउन में भारी मुनाफा कमाने को ये किसकी प्लानिंग है। इस बात की जांच और संबधित विभाग पर आंच शायद कभी नहीं आएगी।

ये भी पढ़ें:  40 करोड़ से अधिक की लागत से होगा उत्तराखंड के तीन रेलवे स्टेशनों का पुनर्विकास, रेलवे स्टेशन के पुनर्विकास शिलान्यास समारोह में वर्चुअल रूप से सीएम ने किया प्रतिभाग

इन्होंने कहा

सील में छेड़छाड़ की शिकायत के बाद विभाग के लोगों को मौके पर भेजा है। लॉक डाउन में सील लगाने के बाद ठेकों या गोदाम से माल नहीं निकाला गया है। रमेश बंगवाल, आबकारी निरीक्षक

गोदाम के ताले पर सील लगी थी। लेकिन सील में छेद पाया गया है। जिस कारण ताले पर डबल सील लगा दी गई है। सील से छेड़छाड़ की कोशिश हुई है। देवानंद बैलवाल, आबकारी विभाग

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button