उत्तराखंड

केंद्र से उत्तराखंड के लिए आई खुशखबरी, प्रदेश के पहले थर्मल पावर प्लांट को मिली मंजूरी, 1000 मेगावॉट बिजली उत्पादन का लक्ष्य

देहरादून। ऊर्जा के क्षेत्र में उत्तराखंड के लिए खुशखबरी भरी खबर है, मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी के द्वारा जहां अगले 5 वर्षों में बिजली का उत्पादन दोगुना करने का लक्ष्य विभाग को दिया गया है, तो वहीं केंद्र से उत्तराखंड के लिए एक खुशखबरी सामने आई है,ऊर्जा सचिव और मीनाक्षी सुंदरम ने जानकारी देते हुए कहा है कि प्रदेश के द्वारा जो मांग केंद्र सरकार से थर्मल पावर प्लांट को लेकर की गई थी,उसे मंजूरी मिल गई है,आर मीनाक्षी सुंदरम का कहना है कि थर्मल पावर प्लांट को लेकर कोल लिंक के लिए मांग राज्य के द्वारा की गई थी, वह पूरी हो गई है,उड़ीसा में पावर प्लांट लगाया जाएगा, 2025 दिसंबर तक इसको लेकर टेंडर प्रक्रिया भी कर ली जाएगी, 1000 मेगावाट विद्युत उत्पादन का यह प्लांट लगाया जाएगा।

आर मीनाक्षी सुंदरम का कहना है कि आठ जो जल विद्युत परियोजनाएं अटकी हुई है, उनकी अड़चन दूर की जा रही है, 6 नई परियोजनाओं का अलॉटमेंट हो चुका है,जबकि 16 परियोजनाओं की डीपीआर को मंजूरी मिल चुकी है,सोलर और पंप स्टोरेज पर भी फोकस किया जा रहा है। आपको बता दें कि उत्तराखंड को भले ही ऊर्जा प्रदेश के रूप में जाना जाता हो लेकिन फिर भी बिजली की बड़ी खपत उत्तराखंड में हर साल रहती है, ऐसे में मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी ने उत्तराखंड में बिजली उत्पादन को दोगुना करने का लक्ष्य दो दिन पहले समीक्षा बैठक में दिया था,लेकिन जिस तरीके से उत्तराखंड में नई जल विद्युत परियोजनाओं के साथ थर्मल पावर प्लांट लगाए जाने को मंजूरी मिली है, उसे बिजली उत्पादन में बढ़ोतरी देखने को मिल सकती है।

ये भी पढ़ें:  मलिन बस्तियों के चिन्हीकरण की रिपोर्ट 15 दिनों में शासन को भेजेंगे सभी जिलाधिकारी – मुख्य सचिव

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!