अपराधउत्तराखंडदेशदेहरादूनराज्य

जोशीमठ- पशुओं के रहने के लिए “प्रीफैबरीकेटेड कॉउ शेड” किए जा रहे तैयार

Listen to this article

गौचर / चमोली 16 जनवरी। जोशीमठ में भूधंसाव के कारण कुछ गौशालाओं को भी खतरा बना हुआ है।

जिला प्रशासन द्वारा पशुओं की सुरक्षा के लिए सुरक्षित स्थानों पर पशुओं के रहने के लिए

प्रीफैबरीकेटेड कॉउ शेड तैयार किए जा रहे है।ग्राम्य विकास, कृषि, उद्यान, पशुपालन सचिव

वीवीआर पुरूषोत्तम ने सोमवार को पशुओं के लिए बनाए जा रहे प्रीफैबरीकेटेड कॉउ शेड का

निरीक्षण किया। उन्होंने निर्देशित किया कि कॉउ शेड में मलमूत्र एवं पानी की निकासी की

उचित व्यवस्था का विशेष ध्यान रखा जाए। कॉउ शेड को जल्द से जल्द तैयार कराते हुए

पशुओं को शिफ्ट कराया जाए। पशुओं के लिए मारवाड़ी एवं सुनील में सुरक्षित स्थानों पर कॉउ शेड बनाए जा रहे है।

राज्य सरकार द्वारा जोशीमठ क्षेत्र में पशुपालकों को आपदा मोचन निधि के मानकों

के अनुसार बड़े पशुओं के चारें हेतु ₹80 प्रति पशु प्रतिदिन तथा छोटे पशुओं के चारे हेतु ₹45

प्रति पशु प्रतिदिन की सहायता राशि दी जाएगी।

सचिव वीवीआर पुरूषोत्तम ने जोशीमठ नगर क्षेत्र में भूधंसाव के कारण प्रभावित विभिन्न

विभागीय भवन एवं परिसंपत्तियों का भी स्थलीय निरीक्षण किया और संबधित

अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए।इस दौरान मुख्य कृषि अधिकारी वीपी मौर्य,

मुख्य उद्यान अधिकारी तेजपाल सिंह, सीवीओ डा.प्रलयंकर नाथ, मत्स्य निरीक्षक जगदंबा,

अधिशासी अभियंता अला दिया, सहायक अभियंता एलपी भट्ट आदि मौजूद थे।

ललिता प्रसाद लखेड़ा

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!