उत्तराखंडदेशदेहरादूनराजनीति

अपने शासन में कांग्रेस भी चाहती थी कृषि कानून में बदलाव, फिर अब विरोध क्यों?: भाजपा

Listen to this article

देहरादून। भारतीय जनता पार्टी जिला देहरादून द्वारा विकास नगर के एक रेस्तरां में प्रेस कॉन्फ्रेंस का आयोजन किया गया।

प्रदेश उपाध्यक्ष व सरकार में कैबिनेट दर्जा मंत्री ज्योति प्रसाद गैरोला ने कहा कि नए कृषि कानून देश व देश के किसानों के लिए ऐतिहासिक हैं। यह कानून कृषि क्षेत्र में पूर्ण बदलाव सुनिश्चित करेंगे और करोड़ों किसानों को सशक्त कर उनकी आय दुगनी करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएंगे। लंबे समय से बिचौलियों द्वारा किसानों को विवश व तंग किया गया।

ये कानून किसानों को इससे मुक्ति दिलाएंगे इस कानून से किसान की समृद्धि सुनिश्चित है, नवीनतम प्रौद्योगिकी तक किसानों की पहुंच सुगम होगी जिससे उत्पादन बढ़ेगा। न्यूनतम समर्थन मूल्य (एमएसपी) और सरकारी खरीद की व्यवस्था जारी रहेगी। यह कानून कृषि मंडियों के खिलाफ नहीं है ये मंडिया पहले की तरह चलती रहेंगी ।

गैरोला ने बिल का विरोध कर रहे विपक्षियों को याद दिलाया कि जब शरद पवार कृषि मंत्री थे और मनमोहन सिंह की सरकार थी उन्होंने बार बार कृषि एक्ट में संशोधन की बात कही थी। और कांग्रेस ने 2019 के लोकसभा चुनाव में अपने घोषणा पत्र में इस एक्ट में संशोधन का वादा किया था। लेकिन आज कांग्रेस और विपक्षी दल गिरगिट की तरह रंग बदल कर घटिया राजनीति कर रहे हैं भाजपा सरकार द्वारा किसानों के हित में ऐतिहासिक कार्य किए गए हैं वित्तीय वर्ष 2020 में कृषि विभाग का बजट1,34,399 करोड़ है जो कि वर्ष 2013- 14 से 6 गुना अधिक है ।

वर्ष 2015 में राष्ट्र में अनाज का कुल उत्पादन 251.5 जो 2020 में बढ़कर 296.65 टन हो गया जो कि एक रिकॉर्ड है पीएम किसान योजना के तहत 10.59 करोड़ किसानों को लाभान्वित करते हुए कुल 95979 करोड रुपए किसान भाइयों के खाते में डाले गए। 2014 में कृषि ऋण 7.3लाख करोड़ था जो कि 2019 में बढ़कर 13.73 करोड़ हो गया 2021-2021 में केंद्र सरकार द्वारा 15लाख करोड़ का लक्ष्य निर्धारित किया गया है।

प्रेस वार्ता में जिला अध्यक्ष शमशेर सिंह पुंडीर, जिला महामंत्री अरुण कुमार मित्तल,जिला मीडिया प्रभारी सम्पूर्ण सिंह रावत, मंडल अध्यक्ष गौरव चावला, किसान मोर्चा जिला अध्यक्ष, नरेंद्र सिंह रावत, जिला उपाध्यक्ष अमित डबराल, संतोष रावत, विनोद कश्यप, सुमन काष्व, रचिता ठाकुर, नीरज चौहान, बीरेंद्र चौहान आदि भाजपा कार्यकर्ता उपस्थित थे।

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!