अपराधउत्तराखंडदेशदेहरादूनधर्म कर्मपर्यटनराज्य

विमान हाईजैक पर Jolly Grant Airport पर हुई मॉकड्रिल

मॉक ड्रिल में विभिन्न सुरक्षा एजेंसियों ने लिया भाग

Dehradun. देहरादून हवाई अड्डे पर एरोड्रोम कमेटी की बैठक व एण्टी हाईजैकिंग मॉक ड्रिल का अभ्यास किया गया।

विमान अपहरण की स्थिति से निबटने को बनाये गये सुरक्षा, संचार व समन्वय मानकों की जाँच की गई। और अभ्यास में पाई गई कमियों को दूर करने पर चर्चा की गई।

मॉक ड्रिल में केन्द्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल एएसजी देहरादून के क्यूआरटी, विस्फोटक रोधी व डॉग स्क्वायड दस्ते के साथ साथ एयरपोर्ट पर कार्यरत विभिन्न एजेंसियों के सुरक्षा प्रभारी, भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण के ए टी सी व अग्निशमन विभाग, विभिन्न एयरलाइंस के कर्मचारियों व उत्तराखंड पुलिस के बल सदस्यों ने प्रतिभाग किया।

मॉक अभ्यास के साथ ही एरोड्रोम कमेटी की बैठक भी आयोजित की गयी, जिसकी अध्यक्षता अपर मुख्य सचिव/गृह राधा रतूड़ी द्वारा की गई।

विमानपतन पर विमान अपहरण की परिस्थिति में स्थानीय स्तर पर गठित इस कमेटी की भूमिका अत्यन्त महत्वपूर्ण होती है।

प्रभाकर मिश्रा एअरपोर्ट डायरेक्टर ने सभी सदस्यों को एयरपोर्ट के नए टर्मिनल और एयपोर्ट के बारे में बताया। वीवीएस गौतम ने उक्त मॉक ड्रिल के विषय में प्रारंभिक ब्रीफिंग दी।

पॉवर पॉइंट प्रेजेंटेशन के माध्यम से हाईजैक की स्थिति में प्रत्येक एजेंसी की भूमिका व जिम्मेदारियों को दिखाया और समझाया गया। विमानपत्तन निदेशक ने पिछली बैठक में चर्चा हुए बिंदुओ पर प्रगति रिपोर्ट प्रस्तुत की।

एरोड्रोम कमेटी के समक्ष प्रस्तुत बिंदुओं पर विस्तार से चर्चा करते हुये दिये गये सुझावों पर शीघ्र कार्यवाही सुनिश्चित करने का निर्देश दिया गया।

ये भी पढ़ें:  देहरादून स्मार्ट सिटी द्वारा बनायी जा रही ग्रीन बिल्डिंग का अपर मुख्य कार्यकारी अधिकारी तीरथपाल सिंह ने किया निरीक्षण, दिये ये निर्देश..

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!