उत्तराखंड

राष्ट्रीय सहकारी संघ की सदस्य बनी नेहा जोशी, पहली बार मिला उत्तराखंड से किसी महिला को प्रतिनिधित्व

देहरादून। भारतीय राष्ट्रीय सहकारी संघ के राष्ट्रीय चेयरमैन दिलीप संघानी ने देवभूमि उत्तराखण्ड से भारतीय जनता युवा मोर्चा की राष्ट्रीय उपाध्यक्ष नेहा जोशी को संघ का सदस्य नियुक्त किया। संघ की महिला समिति में पहली बार उत्तराखंड से किसी महिला को प्रतिनिधित्व मिला है, यह देवभूमि उत्तराखंड के लिए एक गौरव का क्षण है। इस अवसर पर नेहा जोशी ने संघ के चेयरमैन और अन्य पदाधिकारियों को विश्वास दिलाया कि उनके द्वारा दी गई इस जिम्मेदारी का कर्तव्यपूर्ण ढ़ग से निर्वहन और कार्यों को निष्ठापूर्वक करेंगी। नेहा जोशी ने कहा कि भारतीय राष्ट्रीय सहकारी संघ के माध्यम से प्रदेश की महिलाओं के लिए आर्थिक विकास के नए आयाम स्थापित किए जाएगें तथा महिला शक्ति सहभागिता से उत्तराखण्ड में भी पलायन को रोेकने के लिए विशेष प्रयास किए जाएगें।टिहरी, उत्तरकाशी, पौड़ी तथा प्रदेश के अन्य जिलों में संघ द्वारा चल रहे विकास कार्यों को ओर अधिक तेजी से पूर्ण किया जाएगा।

भारतीय राष्ट्रीय सहकारी संघ की स्थापना वर्ष 1929 में की गई थी। यह संघ भारत का सबसे अधिक और लोकप्रिय शीर्ष संघ है, जो भारतीय सहकारी आंदोलन के सभी क्षेत्रों का प्रतिनिधित्व करता है। भारतीय राष्ट्रीय सहकारी संघ का मुख्य उद्देश्य भारत में सहकारी आंदोलन को बढ़ावा देने के साथ-साथ उन्हें विकसित करना है। देश की जनता को उनके प्रयासों में शिक्षित करना, उनका मार्गदर्शन करना तथा उनकी सहायता करना, सहकारी क्षेत्र का निर्माण और उनका विस्तार करना भारतीय राष्ट्रीय सहकारी संघ के महत्वपूर्ण कार्य हैं।

भारतीय राष्ट्रीय सहकारी संघ के द्वारा कोविड़-19 के दौरान कोविड़ महामारी से बचने के लिए लोगों को जागरुक किया गया। संघ के द्वारा ग्रामीण क्षेत्रों में जरुरतमंद लोगों को सामुदायिक रसोई के माध्यम से भोजन उपलब्ध करवाया गया तथा अस्पताल कर्मचारियों और स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं को मास्क, हैंड सैनिटाइजर और अन्य सुरक्षात्मक गियर भी संघ के द्वारा वितरित किए गए।

ये भी पढ़ें:  प्रदेश में प्रचार अभियान थमा, 19 अप्रैल को प्रातः 7 बजे से सायं 5 बजे तक होगा मतदान

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!