अपराधउत्तराखंडदेहरादूनधर्म कर्मराजनीतिराज्य

देहरादून की जीर्ण-शीर्ण सड़कों को PWD के अधिकारियों का घेराव

Listen to this article

देहरादून। प्रदेश कांग्रेस के वरिष्ठ उपाध्यक्ष सूर्यकान्त धस्माना के नेतृत्व में पीडब्ल्यूडी के विभागाध्यक्ष अयाज़ अहमद का जबर्दस्त घिराव किया गया।

घेराव की सूचना पाकर भारी मात्रा में पुलिस बल सुबह से पीडब्ल्यूडी मुख्यालय में तैनात था। जब नारेबाजी के साथ धस्माना दफ्तर में दाखिल हुए तो पुलिस ने उनसे आग्रह किया कि विभागध्यक्ष को वार्ता के लिए नीचे बुला लेते हैं तो धस्माना ने कहा हम औपचारिकता के लिए नहीं बल्कि अनिश्चितकालीन धरने के लिए आये हैं। इसलिए दफ्तर के अंदर ही बात होगी।

इसके पश्चात वे नारेबाजी करते हुए तीसरे माले पर विभागाध्यक्ष अयाज़ अहमद के कक्ष में प्रवेश कर गए और उनका घिराव शुरू कर दिया। उन्होंने विभागाध्यक्ष से कहा कि देहरादून की खस्ताहाल सड़कों के लिए मुख्यतः लोक निर्माण विभाग को जिम्मेदार है।

धस्माना ने कहा कि पहले बरसात उससे पहले स्मार्ट सिटी के कारण खुदाई का बहाना बना कर लंबे समय से देहरादून की जनता को टूटी सड़कों के कारण असहनीय पीड़ा से गुजरना पड़ रहा है जो नाकाबिले बर्दाश्त है इएलिये अब कोई रास्ता नहीं बचा और दफ्तर में ही अनिश्चितकालीन धरने का कार्यक्रम करना पड़ेगा।

कहा कि जब राज्य की राजधानी देहरादून की सड़कों का इतना बुरा हाल है तो प्रदेश के दूर दराज के क्षेत्रों की कल्पना की जा सकती है। उन्होंने कहा कि घण्टाघर देहरादून का हृदय है और वहां से राजपुर, गांधी रोड, चकराता रोड, हरिद्वार रोड किसी भी तरफ चले जाइये चारों तरफ सड़कों का बुरा हाल है, प्रेमनगर की आंतरिक सड़कें, यमुना कालौनी की पीडब्ल्यूडी कालौनी, पण्डितवाड़ी की आंतरिक सड़कें, मेहुवाला में मक्का मस्जिद से तुंतोवाला की सड़क, डीएलरोड,करणपुर,सेवकाश्रम रोड,आर्यनगर,ओल्ड सर्वे रोड,सहारनपुर चौक से रेलवे स्टेशन व दूसरी तरफ आईएसबीटी तक सड़कों का बुरा हाल है।

एक सप्ताह के अंदर होगा कार्य शुरू
देहरादून। धस्माना व कांग्रेस कार्यकर्ताओं का आक्रामक रुख देखते हुए विभागाध्यक्ष अयाज़ अहमद ने एक सप्ताह का समय मांगते हुए कहा कि एक सप्ताह के भीतर देहरादून की सभी आंशिक व पूरी तरह टूटी सड़कों पर प्रभावी काम शुरू कर दिया जाएगा।

विभागाध्यक्ष के आश्वासन के बाद किया घिराव समाप्त। पार्षद सुमित्रा ध्यानी, संगीता गुप्ता, पिया थापा, अनिल बस्नेत,सुमित खन्ना, अभिषेक तिवारी, राजेन्द्र धवन, विजय शाही,प्रमोद गुप्ता, सुल्तान,जगपाल शर्मा,अनुज दत्त शर्मा,इज़हार, प्रवीण कश्यप,घनश्याम वर्मा, लक्की राणा,किरण,इकराम,अमित अरोड़ा, अवधेश समेत बड़ी संख्या में कार्यकर्ता घिराव में शामिल रहे।

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!