उत्तराखंडदेशदेहरादूनस्वास्थ्य और शिक्षा

संविधान दिवस पर शपथ का आयोजन, विद्यार्थियों को दी संविधान की जानकारी

Listen to this article

भारतीय संविधान हैं विश्व का सबसे विशाल लिखित संविधान

डोईवाला। संविधान दिवस के अवसर पर कोविड-19 प्रोटोकॉल का पालन करते हुए राजकीय प्राथमिक विद्यालय रामगढ़ में विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन किया गया। प्रधानाध्यापक अरविन्द सोलंकी ने बताया कि निर्धारित कार्यक्रम के अनुसार प्रातः 11 बजे संविधान की उद्देशिका का वाचन किया गया।

इसके बाद विद्यालय में उपस्थित सभी हितधारकों के सम्मुख भारतीय संविधान के सम्बन्ध में जानकारी देते हुए कहा कि भारतीय संविधान विश्व का सबसे विशाल लिखित संविधान है। जिसका मसौदा तैयार करने का जिम्मा डॉ0 भीमराव अंबेडकर की अध्यक्षता वाली प्रारूप समिति को दिया गया था।

संविधान तैयार करने के लिये कुल 114 दिन बहस चली और 12 अधिवेशन आयोजित किये गये। इस प्रकार कुल 2 वर्ष 11 महीने और 18 दिन में भारतीय संविधान बनकर तैयार हुआ। जिसे 26 नवम्बर, 1949 को अंगीकृत, अधिनियमित और आत्मार्पित किया गया।

भारतीय संविधान द्वारा अपने नागरिकों को कई विशिष्ट अधिकार दिए गए हैं। भारतीय संविधान का संपूर्ण सार इसकी उद्देशिका में ही निहित है।कार्यक्रम के अंत में विद्यालय में उपस्थित छात्र-छात्राओं द्वारा भारतीय संविधान पर निबन्ध भी लिखा गया।

इस अवसर पर प्रधानाध्यापक अरविंद सोलंकी, सहायक अध्यापिकाएं रुचि सेमवाल, मीना घिल्डियाल, विद्यालय प्रबंधन समिति के सदस्य तेजपाल सिंह, रानी, गुड्डी देवी, गुड़िया, ललित कुमार, मुकेश कुमार, शोभा, मोनी देवी समेत दोनों भोजनमातायें लक्ष्मी देवी तथा विमला देवी भी उपस्थित रहे।

संविधान दिवस पर शपथ का आयोजन

डोईवाला। शहीद दुर्गामल्ल राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय डोईवाला में संविधान दिवस पर शपथ का आयोजन किया गया।

जिसमें संविधान निर्माण की प्रक्रिया को याद किया गया। स्वतंत्रता सेनानियों का स्मरण किया गया। संविधान के जनक डॉ अंबेडकर को नमन करते हुए कार्यक्रम की शुरुआत की गई। महाविद्यालय के प्रभारी प्राचार्य प्रोफेसर एसपी सती के निर्देशन में कार्यक्रम शुरू हुआ।

संविधान दिवस डा० एसपी सती ने कहा कि अपने मूल कर्तव्य का स्मरण करते हुए संवैधानिक नियमों व कानूनों का अनुपालन करना चाहिए। डॉक्टर अंजली वर्मा, कार्यक्रम अधिकारी राष्ट्रीय सेवा योजना ने कहा कि सभी को संविधान की प्रस्तावना को समझते हुए संविधान का आदर करते हुए अन्य समाज के लोगों को भी प्रेरित करना चाहिए। कार्यक्रम का संचालन राजनीति विज्ञान विभाग के विभागाध्यक्ष डॉ राखी पंचोला द्वारा किया गया।

इस कार्यक्रम में राष्ट्रीय सेवा योजना के कार्यक्रम अधिकारी एवं मीडिया प्रभारी डॉ एसके कुड़ियाल, डॉक्टर एम एस रावत, डा० संतोष वर्मा, डा० एस०एस० बलूड़ी, डॉक्टर डीएन तिवारी, डॉ एनडी शुक्ला, डॉ0 प्रमोद पंत, डा० नवीन नैथानी, डॉ आरएम पटेल, डॉक्टर कंचन लता सिन्हा,

डॉ राजपाल सिंह रावत, डॉ अनिल भट्ट, अफरोज इकबाल, डा० नूर हसन, डॉ0 दीपा शर्मा, डॉ रेखा नौटियाल, डॉ प्रतिभा बलूनी, डा० पूनम पांडे, डा० बल्लरी कुकरेती, डॉ वंदना गौड़, जीएस कंडारी, जितेंद्र नेगी, महेश कुमार, प्राची, रंजना, मनोज कुमार, स्नेह लता, शोभा, ममता सुनील, वृजमोहन आदि उपस्थित रहे।

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!