उत्तराखंडदेशधर्म कर्मराज्य

20 मई को खुलेंगे हेमकुंड साहिब के कपाट, 20 अप्रैल से आस्था पथ से बर्फ हटाने का कार्य सेना के जवान करेंगे शुरू

Listen to this article

चमोला। हेमकुंड साहिब के कपाट 20 मई को श्रदालुओं के लिये खुल रहे है।

कपाट खुलने से पूर्व सेना के जवानो ने हेमकुंड सहिब मे पहुचकर जायजा लिया। गुरुद्वारा श्री

हेमकुंड सहिब टस्ट के अध्यक्ष नरेन्द्रजीत सिह बिन्द्रा ने बताया कि प्रति वर्ष आस्था पथ से बर्फ

हटाने का कार्य भारतीय सेना के द्वारा किया जाता है। बिग्रेडियर अमन आंनद, आफफिसर

कमांडर सुनील यादव 418 इंडिपेन्डेन्ट कोर की देख रेख में कैप्टेन मानिक शर्मा, सुबेदार मेजर

यात्रा मार्ग व बर्फ का जायजा लिया, आस्था पथ पर अटलाकोटी ग्लेशियर मे 10 फिट के

करीब बर्फ जमी हुई जवकि हेमकुंड साहिब में 8 से 12 फिट तक बर्फ है। सरोवर पूरी तरह से

बर्फ से ढका हुआ है। भारतीय सेना के द्वारा 20 अप्रैल से आस्था पथ पर बर्फ हटाने का कार्य

शुरु कर दिया जायेगा, गोविन्द घाट गुरुद्वारा के मुख्य प्रवन्धक सेवा ने भी घांघरिया पहुचकर

गुरुद्वारे का निरिक्षण किया, 15 अप्रैल से टस्ट के सेवादार यात्रा की तैयारीयों को लेकर

घांघरिया गुरुद्वारे के लिये प्रस्थान करेगे। ताकि समय से पूर्व सभी व्यवस्थाये कर ली जाय।

ललिता प्रसाद लखेड़ा की रिपोर्ट

ये भी पढ़ें:  धामी सरकार ने 25 हजार कर्मचारियों को दी बड़ी सौगात, 10 प्रतिशत बढाया मानदेय

Related Articles

Back to top button