उत्तराखंडएक्सक्यूसिवदेहरादूनधर्म कर्मपर्यटनराजनीतिराज्य

Jolly Grant Airport-विस्तारीकरण के कारण जौलीग्रांट-भानियावाला एलिवेटेड रोड़ खटाई में

जौलीग्रांट-भानियावाला एलिवेटेड रोड़ का मामला फिलहाल ठंड़े बस्ते में गया

Dehradun. देहरादून के जौलीग्रांट एयरपोर्ट के कारण फिलहाल जौलीग्रांट-भानियावाला एलिवेटेड रोड़ खटाई में चला गया है।

भानियावाला से लेकर जौलीग्रांट एयरपोर्ट के पास तक 2.2 किलोमीटर लंबा एक एलिवेटेड रोड़ बनाया जाना प्रस्तावित था। जिसकी प्रक्रिया राष्ट्रीय राजमार्ग द्वारा पूरी कर ली गई थी। और जल्द ही जौलीग्रांट व भानियावाला के बीच 900 करोड़ की लागत से एक 2.2 किलोमीटर लंबा एलिवेटेड रोड़ बनाया जाना था।

लेकिन इस बीच जौलीग्रांट एयरपोर्ट विस्तारीकरण के मामले में एयरपोर्ट से लेकर दुर्गा चौक भानियावाला तक नाप-जोख के कारण एलिवेटेड रोड़ का मामला फिलहाल ठंड़े बस्ते में चला गया है। और एलिवेटेड रोड़ की पूरी प्रक्रिया अंतिम चरण में पहुंचकर जहां की तहां रूक गई है।

अब क्षेत्रीय लोगों में बड़ा कन्फ्यूजन पैदा हो गया है। कि उनकी जमीन में एयरपोर्ट बनेगा या फिर उनकी दुकानों और मकानों के ऊपर से एलिवेटेड रोड़ बनेगा।

जौलीग्रांट-भानियावाला एलिवेटेड मार्ग को लेकर राज्य सरकार पूरे जोर-शोर से प्रचार कर चुकी है। और उसके बाद प्रशासन व लोनिवी द्वारा जौलीग्रांट से लेकर दुर्गा चौक भानियावाला तक की जमीनें, दुकानें व मकान नाप दिए गए।

इस कन्फ्यूजन के कारण लोगों में भारी दहशत है। लोगों का कहना है कि इस मामले में स्थिति साफ होनी चाहिए कि उनकी जमीनों में एयरपोर्ट बनेगा या एलिवेटेड मार्ग बनेगा।

जिससे वो अपने निर्माण कार्य, दुकानों व मकानों आदि के भविष्य के बारे में सोच सकें। लोगों को डर है कि यदि उन्होंने अब कोई निर्माण कार्य किया तो एयरपोर्ट विस्तारीकरण या एलिवेटेड मार्ग के कारण उनके निर्माण कार्य प्रभावित हो सकते हैं।

इसलिए लोगों ने अपनी भवनो, व्यापारिक प्रतिष्ठानों, दुकानों आदि के निर्माण कार्य रोक दिए हैं। और जौलीग्रांट, अठुरवाला व भानियावाला में विकास अवरूद्ध हो गया है।

एयरपोर्ट के आसपास जमीनें खरीदने से बच रहे लोग

डोईवाला। जौलीग्रांट एयरपोर्ट से लेकर दुर्गा चौक भानियावाला तक का एरिया डोईवाला का पॉश एरिया है। जहां जमीनों की कीमतें पूरे डोईवाला में सबसे अधिक कीमतों तक पहुंच गई थी। लेकिन एयरपोर्ट के दुर्गा चौक तक बढने और दुर्गा चौक तक प्रशासन द्वारा नाप-जोख से अब यहां पर जमीनों के रेट धड़ाम हो गए हैं। इस पूरे एरिए में कोई भी आदमी एक इंच भी जमीन नहीं लेना चाहता है।

एयरपोर्ट बने या एलिवेटेड मार्ग दोनों से लोग होंगे प्रभावित

डोईवाला। जौलीग्रांट से लेकर भानियावाला तक एयरपोर्ट का विस्तार किया जाए या फिर जौलीग्रांट से लेकर भानियावाला तक एलिवेटेड मार्ग बनाया जाए दोनों रूपों में जौलीग्रांट, अठुरवाला और भानियावाला के लोग प्रभावित होंगे। एयरपोर्ट विस्तारीकरण से जहां लोगों के मकान, दुकानें और जमीनें उजड़ेंगी। वहीं एलिवेटेड मार्ग बनने से पूरा मार्ग दुर्गा चौक, जौलीग्रांट मुख्य बाजार के ऊपर से निकल जाएगा। जिससे जमीनों के रेट कौड़ियों के भाव रह जाएंगे। और बाजार का व्यापार भी प्रभावित होगा।

इन्होंने कहा

जौलीग्रांट भानियावाला के बीच एलिवेटेड मार्ग के टेंडर लगे हुए हैं। लेकिन एयरपोर्ट विस्तारीकरण के कारण फिलहाल यथा स्थिति बनी हुई है। पंकज मोर्य प्रोजेक्ट इंचार्ज एनएच।

ये भी पढ़ें:  मुख्यमंत्री धामी ने सीएम आवास पर किया कन्या पूजन

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!