उत्तराखंड

भारत-जापान तकनीकी इन्टर्न कार्यक्रम से युवाओं को फायदा, कई युवाओं का जापान में नौकरी के लिए चयन

देहरादून: मुख्यमंत्री कौशल उन्नयन एवं वैश्विक रोजगार योजना की उपलब्धि वर्ष-2023 कौशल विकास एवं सेवायोजन विभाग, उत्तराखण्ड के अन्तर्गत नवसृर्जित विदेश रोजगार प्रकोष्ठ, सहसपुर द्वारा संचालित मुख्यमंत्री कौशल उन्नयन एवं वैश्विक रोजगार योजना ( 10 मई, 2023 को योजना लांच हुई थी) के तहत अति अल्प समय में भारत-जापान तकनीकी इन्टर्न कार्यक्रम के अन्तर्गत जापान में कियर गिवर जॉब रोल हेतु शैक्षिक योग्यता – एएनएम योग में स्नातक तथा प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना के अन्तर्गत जनरल ड्यूटी असिस्टेंट आदि में उतीर्ण 33 इच्छुक अभ्यर्थियों को इम्प्टीमेंटिग पाटर्नर नेविस एच आर के सहयोग से स्किल हब सहसपुर में जापानी भाषा का लगभग 3 माह का प्रशिक्षण दिया गया। जिसमें से 15 अभ्यर्थियों द्वारा जापानी एजेंसी द्वारा ली जाने वाली नेट-4 दक्षता परीक्षा उतीर्ण कर ली गयी है। उक्त अभ्यर्थियों में से 02 अभ्यर्थियों को जापान के चीबा प्रान्त में नियोजक से जॉब इंटरव्यू के बाद प्रति माह 200000 येन (जापानी मुद्रा ) का जॉब कांट्रेट 3 वर्ष के लिए प्राप्त हुआ है। उक्त अभ्यर्थियों का फरवरी, 2024 में जापान जाना प्रस्तावित है। शेष अभ्यर्थियों के जॉब इंटरव्यू जनवरी, 2024 में होने प्रस्तावित हैं। वर्तमान में विदेश रोजगार प्रकोष्ठ द्वारा जर्मनी एवं इंग्लैंड में रजिस्टर्ड नर्स हेतु उपलब्ध रिक्तियों के लिए मोबलाइजेशन कार्यक्रम गतिमान है।

ये भी पढ़ें:  महाराज ने किये ओल्ड लिपुलेख पास से कैलाश के दर्शन, पहली बार प्रदेश सरकार का कोई मंत्री पहुंचा 18000 फीट की ऊंचाई पर

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!