उत्तराखंडएक्सक्यूसिवदेशदेहरादूनधर्म कर्मपर्यटनमनोरंजनराज्यविदेशस्वास्थ्य और शिक्षा

BIG BREAKING: Jolly Grant Airport के पास रानीपोखरी में बनेगी एरोसिटी- रानीपोखरी में इस जमीन का अधिकारियों ने किया निरीक्षण

Dehradun. देहरादून के जौलीग्रांट एयरपोर्ट के पास एयरपोर्ट से महज एक किलोमीटर की दूरी पर एरोसिटी बनने जा रही है।

जिसकी कवायद शुरू कर दी गई है। रविवार को पयर्टन और राजस्व विभाग के अधिकारियों ने रानीपोखरी ग्राम प्रधान के साथ देहरादून-ऋषिकेश मुख्य मार्ग पर रानीपोखरी में रेशम विभाग

की जमीन का मौके पर जाकर निरीक्षण किया। रानीपोखरी में रानीपोखरी पुल के कुछ मीटर की दूरी पर मुख्य मार्ग पर ही रेशम विभाग की काफी जमीन है। इस जमीन को 2017 में फैशन

टेक्नॉलाजी को दिया गया था। लेकिन करीब पांच साल बीत जाने के बावजूद फैशन टेक्नॉलाजी का कोई भी कार्य इस पर नहीं किया गया है। जिस कारण अब इस जमीन पर एरोसिटी बनाने की कवायद शुरू की जा रही है।

रविवार को रानीपोखरी में रेशम विभाग की करीब 4.5310 (60 बिघा लगभग) हेक्टयर जमीन है। इसी जमीन पर एरोसिटी बनाने की कवायद पर्यटन विभाग करने जा रहा है। यह जमीन

एयरपोर्ट के पास भी है। और इस जमीन पर एरोसिटी बनाने पर स्थानीय लोग किसी तरह का कोई विरोध भी नहीं करेंगे। यही कारण है कि इस जमीन पर एरोसिटी बनाने की कवायद शुरू कर

दी गई है। यह जमीन एयरपोर्ट से काफी नजदीक भी है। और डोईवाला नगर पालिका से बाहर ऋषिकेश तहसील का हिस्सा है। इसी कारण रविवार को संबधित अधिकारियों ने इस जमीन को

एरोसिटी बनाने को लेकर निरीक्षण किया। मौके पर पर्यटन सचिव दिलीप जावलकर, एसडीएम डोईवाला युक्ता मिश्र, एसडीएम ऋषिकेश नंदन कुमार, नायब तहसीलदार विनोद तिवाड़ी, ग्राम

प्रधान सुधीर रतूड़ी, राजस्व उपनिरीक्षक संजय वर्मा, जयपाल रावत, संदीप जायसवाल, संजय जायसवाल, भरत सिंह मनवाल आदि मौजूद रहे।

 

ये भी पढ़ें:  विश्व प्रसिद्ध फूलों की घाटी ट्रैक को इस बार 01 जून से पर्यटकों के लिए खोल दिया जाएगा
एरोसिटी को निरीक्षण करती पर्यटन व राजस्व विभाग की टीम।

 

स्थानीय को रोजगार देने की मांग रखी

डोईवाला। रानीपोखरी में एरोसिटी बनाने को लेकर रेशम विभाग की जमीन का निरीक्षण करने पहुंची अधिकारियों की टीम को ग्राम प्रधान सुधीर रतूड़ी ने कहा कि उन्हे रानीपोखरी में एरोसिटी बनाने में कोई दिक्कत नहीं है। लेकिन इससे उनकी ग्राम सभा और स्थानीय लोगों को लाभ होना चाहिए। एरोसिटी में स्थानीय लोगों को रोजगार दिया जाना चाहिए। जिस पर संबधित अधिकारियों ने सहमति जताई।

 

एरोसिटी में ये मिलेगी सुविधाएं

डोईवाला। एरोसिटी से रानीपोखरी ही नहीं पूरे डोईवाला को एक नई पहचान मिलेगी। एरोसिटी में फाइव स्टार होटल से लेकर मॉल, कैफे, रेस्टोरेंट, शॉपिंग कॉम्प्लेक्स और सैकड़ों लोगों के ठहरने

की व्यवस्था होगी। जिससे क्षेत्र को एक अलग पहचान तो मिलेगी ही, साथ ही स्थानीय लोगों को रोजगार के अवसर भी प्राप्त होंगे।

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!