अपराधउत्तराखंडदेहरादूनराजनीतिराज्य

युवती की मौत से गुस्साए परिजनों ने हर्रावाला में किया राष्ट्रीय राजमार्ग जाम 

Dehradun. हर्रावाला निवासी एक युवती की जौलीग्रांट में शनिवार को हुई मौत के बाद भीम आर्मी व उसके परिजनों द्वारा हर्रावाला पुलिस चौकी के सामने शव रखकर राष्ट्रीय राजमार्ग जाम कर दिया गया।

मनाली (21) पुत्री राकेश कुमार निवासी दिल्ली फार्म हर्रावाला की 25-8-22 से हिमालयन अस्पताल जौलीग्रांट में भर्ती थी।  जिसकी उपचार के दौरान मृत्यु होने पर शनिवार को भीम आर्मी के सुशील गौतम व जिलाध्यक्ष कपिल कुमार के नेतृत्व में भीम आर्मी के कार्यकर्ताओं व परिजनों द्वारा शनिवार को दोपहर करीब 12 बजे हर्रावाला पुलिस चौकी के सामने राष्ट्रीय राजमार्ग जाम किया गया। जाम करीब चालीस मिनट के लगभग रहा।

दरअसल पिछले वर्ष दिसम्बर में  पड़ोसियों के बीच मारपीट होने की घटना पर मृतका के पिता राकेश कुमार द्वारा उनके व उनके परिजनों के साथ अपने पड़ोसियों के खिलाफ थाना डोईवाला पर मारपीट व एससीएसटी का मुकदमा दर्ज करवाया गया था। परिजनों द्वारा आरोपियों के खिलाफ उचित कार्यवाही न करने के आरोप लगाते हुए मनाली की हत्या के आरोपियों की गिरफ्तारी की मांग की गई।

पुलिस अधीक्षक ग्रामीण कमलेश उपाध्यक्ष, डोईवाला कोतवाल राजेश शाह द्वारा मृतका का शव एम्बुलेंस में पीएम को कोरोनेशन अस्पताल भिजवाया गया। जिसके बाद राष्ट्रीय राजमार्ग से जाम हटाया गया।

मौके पर स्पर्श पनियाला जिलाध्यक्ष बसपा, पूर्व जिलाध्यक्ष भीम आर्मी अर्जुन कुमार, पूर्व जिलाध्यक्ष रविकांत आदि मौजूद रहे।

इस दौरान प्रदर्शनकारियों के हाथ में भारत के संविधान की पुस्तक दिखाई दी। वहीं मामला बढ़ते देख पुलिस ने जबरन शव को एंबुलेंस में रखकर हटवाया गया। इस दौरान पुलिस की प्रदर्शनकारियों से झड़प भी हुई। प्रदर्शनकारियों को मार्ग से पूरी तरह से हटाकर ट्रैफिक सुचारू किया गया।

मौके पर सीओ डोईवाला के साथ ही रानीपोखरी, नेहरू कॉलोनी, डोईवाला व आसपास के क्षेत्रों की पुलिस फोर्स तैनात रही। चौकी इंचार्ज हर्रावाला नवीन डंगवाल ने कहा कि मनाली की मौत उपचार के दौरान अस्पताल में बीमारी की वजह से हुई है।

ये भी पढ़ें:  विकास और पर्यावरण के बीच संतुलन जरूरी – सचिव डॉ. रंजीत कुमार सिन्हा

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!