Uncategorized

बड़ी खबर: जोशीमठ नगर क्षेत्र के 9 वार्ड में 723 भवन प्रभावित और 86 भवन असुरक्षित जोन में

Listen to this article

जोशीमठ। जोशीमठ नगर क्षेत्र में हो रहे भू-धंसाव के दृष्टिगत जिला आपदा प्रबंधन

प्राधिकरण चमोली द्वारा जारी दैनिक रिपोर्ट के अनुसार जोशीमठ नगर क्षेत्र के 9 वार्ड में 723 भवन प्रभावित हुए है।

जिसमे से 86 भवन ऐसे हैं जिनको असुरक्षित जोन के अंतर्गत रखा गया है। सुरक्षा की दृष्टि से

जिला प्रशासन द्वारा अबतक 131 परिवारों के 462 व्यक्तियों को विभिन्न ठिकानों पर अस्थायी

रूप से विस्थापित किया गया है।
जिला प्रशासन द्वारा जोशीमठ नगर क्षेत्र के

अंतर्गत निवास करने योग्य अस्थायी राहत शिविरों के रूप में 51 भवनों के 344 कक्षो का

चिह्नीकरण कर लिया गया है। जिसमे 1425 व्यक्तियों को ठहराया जा सकता है।

वहीं नगर पालिका क्षेत्र जोशीमठ के बाहर पीपलकोटी में अस्थायी राहत शिविरों के रूप में

20 भवनों के 491 कमरों को चयनित किया गया है जिसमे कुल 2205 लोगों को ठहराया जा सकेगा।

राहत कार्यो के तहत जिला प्रशासन द्वारा अबतक 53 परिवारों को 5 हजार रुपये की दर

से कुल 2 लाख 65 हजार रुपये की धनराशि आवश्यक दैनिक घरेलू सामग्री क्रय करने हेतु

वितरित की जा चुकी है। जबकि तीक्ष्ण/पूर्ण रुप से क्षतिग्रस्त 10 भवन स्वामियों को 1 लाख

30 हजार रुपये की दर से कुल 13 लाख रुपए की आर्थिक सहायता दी जा चुकी है।

प्रभावितों को अबतक 70 खाद्यान किट, 70 कंबल व 570 लीटर दूध का वितरण राहत

 

सामग्री के रूप में किया जा चुका है इसके अलावा स्वास्थ्य विभाग द्वारा निरंतर प्रभावितों

का स्वास्थ्य परीक्षण किया जा रहा है जिसके तहत राहत शिविरों में रह रहे 70 से अधिक

लोगों का स्वास्थ्य परीक्षण किया जा चुका है।
जिला मजिस्ट्रेट चमोली द्वारा आपदा प्रबंधन

अधिनियम की धारा 33 व 34 का प्रयोग करते हुए नगर क्षेत्र अंतर्गत वार्ड संख्या 1, 4, 5 व 7

के अंतर्गत आने वाले अधिकांश क्षेत्रो को असुरक्षित घोषित करते हुए इन वार्डों को खाली

करवाने का आदेश जारी किया गया है।

ललिता प्रसाद लखेड़ा

Related Articles

Back to top button