अपराधउत्तराखंडएक्सक्यूसिवदेहरादूनराज्यस्वास्थ्य और शिक्षा

बड़ी खबर: ड्यूटी में लापरवाही पर डोईवाला चीनी मिल का पम्पमैन सस्पेंड

देहरादून। डोईवाला चीनी मिल में कार्यरत एक पंपमैन को ड्यूटी में लापरवाही बरतने पर चीनी मिल के अधिशासी निदेशक द्वारा सस्पेंड कर दिया गया है।

चीनी मिल के अधिकारियों ने निरीक्षण के दौरान सल्फाईटेड़ जूस पम्प बन्द होने के कारण जूस बहता हुआ पाया गया। इस सम्बन्ध में अभियन्ता एवं मुख्य रसायनज्ञ द्वारा बीते 13 दिसंबर को प्रस्तुत रिपोर्ट द्वारा ईडी को अवगत कराया गया कि में शाम छह बजे से सुबह दो बजे की

पाली में सांय 6.45 बजे बॉयलिंग हाउस में सल्फाईटेड जूस पम्प ट्रिप होने पर पम्प बन्द हो गया था। और उस वक्त ड्यूटी पर तैनात पंपमैन नन्दकिशोर स्टैण्डबाई पम्प होने के बावजूद उस पम्प को  ऑपरेट नहीं कर पाया। और न मोटर उपरान्त वह वाल्व को सही तरह से खोल पाया,

जिस कारण सल्फाईटेड जूस टैंक ओवरफ्लो होकर काफी मात्रा में बह गया। जिससे मिल को आर्थिक नुकसान का सामना करना पड़ा।

इस लापरवाही के लिए पंपमैन नन्दकिशोरन (सामयिक) कर्मकार को प्रथम दृष्टया दोषी पाया गया। यह मिल में लागू स्थाई आदेश के अन्तर्गत गम्भीर अवचार की श्रेणी में आता है। कर्मकार द्वारा अपने कर्तव्यों के प्रति गम्भीर असावधानी बरती गई। और जानबूझकर जिम्मेदारी से

बचने करते हुए मिल का अनुशासन भंग किया गया। यह चीनी मिल में लागू स्थाई आदेश की धारा 1(प) एवं 1 (भ) के अन्तर्गत गम्भीर अवचार की श्रेणी में आता है। मिल में लागू स्थाई

आदेश की धाराओं के अन्तर्गत पम्पमैन (सामयिक) नन्द किशोर को प्रथम दृष्टया दोषी मानते हुए तत्काल प्रभाव से निलम्बित कर गन्ना कार्यालय अटैच किया है।

निर्माण रसायनज्ञ को सौंपी जांच

 डोईवाला। इस प्रकरण की जाँच निर्माण रसायनज्ञ आशुतोष अग्निहोत्री को सौंपी गई है। जो कर्मचारी के विरूद्ध आरोप पत्र तैयार कर संबधित अधिकारियों को जांच सौंपेंगे।

ये भी पढ़ें:  देहरादून स्मार्ट सिटी द्वारा बनायी जा रही ग्रीन बिल्डिंग का अपर मुख्य कार्यकारी अधिकारी तीरथपाल सिंह ने किया निरीक्षण, दिये ये निर्देश..

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!