उत्तराखंडएक्सक्यूसिवदेहरादूनराजनीतिराज्य

डोईवाला में नए ईओ से भाजपा सभासदों ने बनाई दूरी, मामला अभी भी नहीं हुआ शांत

Listen to this article

डोईवाला। नगर पालिका डोईवाला में ईओ बद्री प्रसाद भट्ट के स्थान पर आए नए ईओ उत्तम सिंह नेगी ने कार्यभार ग्रहण कर लिया है।

उनका तबादला कोटद्वार से डोईवाला और डोईवाला के ईओ बद्री प्रसाद भट्ट का तबादला ऋषिकेश किया गया है। उत्तम सिंह नेगी कोटद्वार में वाणिज्य कर अधिकारी के पद पर थे। जिन्हे अब डोईवाला में ईओ के पद पर भेजा गया है। नए अधिशासी अधिकारी के कार्यभार ग्रहण करने के साथ ही कांग्रेस सभासद गौरव मलहोत्रा और अन्य सभासदों द्वारा उनका स्वागत किया गया।

वहीं भाजपा सभासदों ने अभी भी नए ईओ से दूरी बनाई हुई है। भाजपा का कोई भी सभासद मंगलवार को नए ईओ का स्वागत करने नहीं पहुंचा। भाजपाई स्वागत की बजाय उनके खिलाफ प्रदर्शन करना चाह रहे थे।

लेकिन किन्हीं कारणों से प्रदर्शन नहीं हो सका। डोईवाला में ईओ के तबादले को लेकर घमासान मचा हुआ था। जिस कारण भाजपा और कांग्रेस सभासदों के बीच खींचतान काफी बढ गई थी। भाजपा सभासद ईओ बद्री प्रसाद भट्ट के तबादले से नाराज थे। और उन्होंने भट्ट का तबादला रोकने को लेकर ऐड़ी-चोटी तक का जोर लगा रखा था।

ईओ बद्री प्रसाद भट्ट का तबादला रोकने को लेकर भाजपा सभासदों ने शहरी विकास सचिव से लेकर, क्षेत्रीय विधायक और सांसद तक से मिलकर गुहार लगाई थी। लेकिन ईओ का तबादला नहीं रूक पाया। और नए ईओ उत्तम सिंह नेगी ने डोईवाला की कमान संभाल ली।

इस मामले में कांग्रेस सभासद एक दिन पहले शहरी विकास मंत्री प्रेमचंद अग्रवाल से मिले थे। और नए ईओ उत्तम सिंह नेगी को जल्द डोईवाला में कार्यभार ग्रहण करने को ज्ञापन भी दिया था। जिसके बाद उत्तम सिंह नेगी ने मंगलवार को डोईवाला नगर पालिका की कमान संभाल ली है।

इस पूरे मामले में भाजपा सभासद अब तक बैकफुट पर रहे हैं। उन्होंने लगभग तीन वर्ष पहले भी डोईवाला में एक ईओ का तबादला करवाने को पूरा जोर लगाया था। लेकिन उन ईओ का तबादला उस वक्त नहीं हो पाया था।

और अब जिस ईओ के तबादले को रोकने के लिए भाजपा सभासदों सहित पार्टी के सभी बड़े नेताओं ने जोर लगाया। तो उन ईओ का तबादला रूक नहीं पाया है। और नए ईओ ने डोईवाला में अपना कार्यभार ग्रहण कर लिया है।

इन्होंने कहा

विकास संबधी प्रस्तावों का क्रियान्वयन और शासन-प्रशासन के निर्देशों को धरातल पर उतारना उनकी प्राथमिकताओं में शामिल है। तबादले पर मचे घमासान के बारे में कहा कि उनकी कार्यशैली को भी देखा जाना चाहिए।

तभी अनुमान लगाना चाहिए कि कौन बेहतर कार्य कर रहा है। उत्तम सिंह नेगी, ईओ डोईवाला।

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!