उत्तराखंडदेशदेहरादूनधर्म कर्मपर्यटनराजनीतिस्वास्थ्य और शिक्षा

डोईवाला सरकारी अस्पताल बचाने को आमरण-अनशन का चौथा दिन

खबर को सुने

कई संगठनों ने मौके पर जाकर दिया अपना समर्थन

Dehradun. सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र डोईवाला का अनुबंध निरस्त करने की मांग को लेकर आंदोलन कर रहे उत्तराखंड क्रांति दल के केंद्रीय सचिव केंद्रपाल सिंह तोपवाल का आमरण अनशन चौथे दिन भी जारी रहा।

उत्तराखंड क्रांति दल के जिला अध्यक्ष संजय डोभाल के नेतृत्व में उप जिलाधिकारी को तत्काल अनुबंध निरस्त करने के लिए ज्ञापन दिया गया। उत्तराखंड क्रांति दल के विधानसभा प्रभारी शिवप्रसाद सेमवाल ने स्वास्थ्य केंद्र में आरटीआई लगाकर अनुबंध के तमाम कागजात मांगे हैं। उन्होंने कहा कि से संबंधित सभी दस्तावेज हासिल करने के बाद आगे की रणनीति बनाई जाएगी।

उन्होंने कहा कि अस्पताल का मुद्दा आम जनता और अनशन कर रहे आंदोलनकारियों के जीवन मरण का प्रश्न बना हुआ है। जिलाध्यक्ष संजय डोभाल ने बताया कि उन्होंने उपजिला अधिकारी को इस संबंध में पूरी स्थिति अवगत कराते हुए अनुबंध निरस्त करने की मांग की है। इस पर उपजिलाधिकारी ने जल्दी ही कार्यवाही का आश्वासन दिया है।

केंद्रीय महिला मोर्चा की अध्यक्ष प्रमिला रावत ने कहा कि यदि प्रशासन ने संज्ञान नहीं लिया तो उत्तराखंड क्रांति दल के पदाधिकारी चक्का जाम करेंगे। उत्तराखंड आंदोलनकारी 90 वर्षीय गिरधारी लाल नैथानी तथा भाजपा नेता रामेश्वर पांडे आंदोलन के समर्थन में लगातार अनशन स्थल पर डटे हुए हैं।

उनका कहना था कि यह आंदोलन आम आदमी से जुडा है इसलिए सबको साथ आना चाहिए। इस अवसर पर उत्तराखंड क्रांति दल के वरिष्ठ नेता सोमेश बुड़ाकोटी, राकेश तोपवाल, रमेश तोपवाल, एडवोकेट डीएम काला, केएस गुसाईं, काजल राणा, सुनील कुमार, शशिकांत जुगरान, कमला देवी, रणवीर सिंह आदि 50 से अधिक लोगों ने धरना स्थल पर जाकर समर्थन दिया।

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!