उत्तराखंडदेशदेहरादूनराजनीतिस्वास्थ्य और शिक्षा

मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना में 150 तरह के कार्यो से मिलेगा प्रदेशवासियों को रोजगार

मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना से आत्मनिर्भर बनेगा प्रदेश: मुख्यमंत्री

Dehradun. मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने डोईवाला के नागल बुलंदावाला में मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना का शुभारंभ करते हुए कहा कि इस योजना से लॉक डाउन के कारण बेरोजगार हुए लोगों को रोजगार मुहैया करवाया जाएगा।

मुख्यमंत्री ने कहा कि उत्तराखंड देश का पहला राज्य है जहां इस योजना को शुरू किया गया है। इस योजना में कुल 150 तरह के कार्य हैं, जिनसे लोगों को रोजगार मिलेगा। निर्माण, कार्य, दुकान, कृर्षि, उद्योग, पशुपालन सहित तमाम ऐसे क्षेत्र हैं। जिसमें सरकार लोगों को रोजगार देने जा रही है।

36 हजार नए लोगों को मनरेगा से जोड़ा गया है। कोरोना का प्रभाव को दीर्घकालीन मानते हुए प्रदेश सरकार ने रोजगार और आर्थिकी को मजबूती देने की तैयारी की है। कहा कि प्रदेश में कोरोना की रिकवरी रेट दूसरे प्रदेशों की तुलना में अधिक और संक्रमितों की संख्या कम हो रही है।

उच्च शिक्षा और सहकारिता मंत्री धन सिंह रावत ने कहा कि समेकित सहकारी विकास परियोजना व गंगा गाय महिला डेरी योजना के अंतर्गत दुधारू पशु क्रय कार्यक्रम का शुभारम्भ किया गया है।

इस योजना के तहत कुल 444.62 करोड़ की धनराशि स्वीकृत की गई है। जिसके तहत 5400 लाभार्थियों को 20 हजार दुधारू पशु वितरित किये जाने हैं। इस चालू वित्तीय वर्ष में 2800 लाभार्थियों को 10 हजार दुधारू पशु दिये जाने का लक्ष्य है। योजना के तहत 3 तथा 5 पशुओं की इकाई लाभार्थियों को दी जा रही है।

तीन दुधारू पशुओं की इकाई लागत 2 लाख 46 हजार 500 जबकि 5 दुधारू पशुओं की इकाई लागत 4 लाख 7 हजार 250 निर्धारित की गई है। जिसमें 10 प्रतिशत लाभार्थी का अंश तथा 25 प्रतिशत अनुदान की व्यवस्था राज्य सरकार द्वारा की गई है।

इस अवसर पर राज्य मंत्री करण बोरा, जिलाध्यक्ष भाजपा शमशेर पुण्डीर, संपूर्ण रावत, भारत मनचंदा, विनय कंडवाल, धीरेंद्र पंवार, राजकुमार, खेमसिंह पाल आदि उपस्थित रहे।

ये भी पढ़ें:  सीएम धामी के उत्तराखण्ड के विश्वविद्यालयों में भारतीय हिन्दू संस्कृति के अध्ययन संबंधी निर्णय का साधु संतों ने किया खुलकर स्वागत, मुख्यमंत्री धामी को बताया सनातन संस्कृति का संरक्षक

इन लोगों को दिए गए दुधारू पशु

राज्य समेकित सहाकारी विकास योजना में स्वीकृत योजना के अंतर्गत आयोजित दुधारू पशु मेले में ऋण व अनुदान के लाभार्थियों जय प्रकाश थपलियाल, केशवानंद डोभाल, युद्धवीर सिंह, संयज थपलियाल, जयेंद्र राणा सभी उत्तरकाशी और देहरादून की प्रमिला देवी, वंदना देवी को दुधारू पुश दिए गए।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: Content is protected !!