उत्तराखंडदेहरादूनराजनीतिराज्य

डोईवाला के इन 18 मुद्दों को लेकर कांग्रेस ने प्रेसवार्ता में भाजपा पर लगाए गंभीर आरोप

Listen to this article

डोईवाला। डोईवाला विधानसभा के ज्वलंत मुद्दों को लेकर कांग्रेस के प्रदेश प्रवक्ता गौरव सिंह द्वारा डोईवाला में एक प्रेस वार्ता की गई।

जिसमें कांग्रेस द्वारा भाजपा पर कई आरोप लगाए गए।

 

 

1- वर्ष 2012 के बाद से लघु सिंचाई की नहरों की मरम्मत के लिए कोई बजट नहीं मिला है। जिससे सिंचाई की नहर जर्जर हालत में पहुंच गई हैं। और किसानों को सिंचाई के पानी की दिक्कत पेश आ रही है।

2- बजट के अभाव में डोईवाला तहसील और डिग्री कॉलेज में गर्ल्स हॉस्टल का कार्य सुस्त गति से चल रहा है। जिसका लाभ डोईवाला की जनता वह कॉलेज की छात्राओं को समय पर नहीं मिल पा रहा है।

3- सरकारी अस्पताल का जुलाई में पीपीपी मोड़ का अनुबंध समाप्त हो गया है। लेकिन सरकारी डॉक्टरों की नियुक्ति अभी तक नहीं की गई है। जिससे कि अस्पताल में बेहद ही सीमित स्टाफ मौजूद है। इससे आम जनता परेशान है।

4- डोईवाला क्षेत्र के विस्थापित, भानियावाला,आर्य नगर, प्रेम नगर, रानीपोखरी, बड़कोट, लिस्ट्राबाद व पर्वतीय क्षेत्रों में सनगांव, धारकोट,सिन्धवाल गांव आदि गांव में पेयजल की भारी किल्लत है। जल जीवन मिशन योजना के बाद भी इन क्षेत्रों में पानी की आपूर्ति सुचारू नहीं हो पाई है।

5- बुल्लावाला, झबरावाला, दूधली, सिमलास , सत्तीवाला, रानीपोखरी, बड़कोट, आदि क्षेत्रों में हाथियों से नुकसान व भानियावाला डोईवाला नगर में बंदरों के काटने से नगरवासी परेशान है परंतु वन विभाग से इस संबंध में अभी तक कोई व्यवस्था नहीं बनाई गई।

6- गन्ना किसानों का 18 फरवरी तक का ही भुगतान अभी तक हुआ है। पूरा भुगतान नही हुआ।

7- तहसीलों में लगभग 3 माह से पटवारियों के अतिरिक्त क्षेत्रो में कार्य बहिष्कार के चलते आम जनमानस को अपने जरूरी प्रमाण पत्रों के लिए तहसील के चक्कर काटने पड़ रहे हैं। लेकिन सरकार इस ओर कोई ध्यान नहीं दे रही है।

8- बुल्लावाला, झबरावाला में सुसवा नदी से खेती की भूमि का कटाव हो रहा है। लेकिन इसमें अभी तक पुस्ता निर्माण नहीं किया गया। जिससे अब लोगों के आवासीय मकान भी भूमि कटाव की जद में आ रहै है।

9- डोईवाला में अभी तक मुख्यमंत्री की घोषणा के बावजूद बस अड्डे का निर्माण नहीं हुआ।

10- डोईवाला क्षेत्र में पार्किंग की समस्या का कोई समाधान नहीं हुआ। जिससे कि हमेशा क्षेत्र में जाम की स्थिति बनी रहती है।

11- डोईवाला में पार्को का निर्माण और खेल मैदान की तमाम घोषणा खोखली साबित हुई ।आज बच्चों के खेलने के लिए ना ही कोई अच्छा मैदान है। और ना ही कोई अच्छा पार्क है।

12- डोईवाला विधानसभा के कई ग्रामों को नगर निगम देहरादून और नगर पालिका देवाला में शामिल किया गया परंतु वहां पर विकास की स्थिति बहुत दयनीय हो चुकी है कारण यह है कि इन क्षेत्रों को ग्राम पंचायत से कम धन विकास कार्यों के लिए मिल रहा है और परेशानी ज्यादा हो रही है।

सड़कों पर पानी भराव की समस्या हो या प्रमाण पत्र बनाना हो हर काम के लिए क्षेत्र वासियों को जूझना पड़ता है l

13- डोईवाला विधानसभा क्षेत्र के शहीदों व स्वतंत्रता सेनानियों के नाम पर सड़क व विद्यालय के नाम किए जाए। जिससे कि हमारी आने वाली पीढ़ी उन गौरवान्वित लोगों को याद रख सके।

14- डोईवाला विधानसभा के अंतर्गत सबसे ज्यादा बिजली कटौती की जा रही है l

15- पुरानी घोषणाएं पूरी कब होंगी जिनमें मुख्य रुप से 1.डोईवाला में कैंसर हॉस्पिटल 2. बस अड्डा 3.कोस्ट गार्ड का ट्रेनिंग सेंटर 4.लॉ कॉलेज 5.गुल्लर घाटी और बुलावाला का पुल l

16-डोईवाला में पोस्टमार्टम की सुविधा उपलब्ध होनी चाहिए l

17- सूर्य धार बांध के आगे जो झील बनी है उस पर सरकार गंभीर नहीं है जिसका नतीजा क्षेत्रवासियों को भुगतना पड़ सकता है l

18- डोईवाला विधानसभा के नगर क्षेत्र और ग्रामीण क्षेत्र में पब्लिक ट्रांसपोर्ट की व्यवस्था होनी चाहिए l

प्रेस वार्ता में कांग्रेस जिलाध्यक्ष अश्वनी बहुगुणा, नगर अध्यक्ष राजवीर खत्री , ब्लॉक अध्यक्ष रणजीत सिंह गौरव मल्होत्रा सभासद, भारत भूषण पेले सभासद ,जसवंत सिंह ,एवं अन्य कांग्रेसजन मौजूद रहे

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!