अपराधउत्तराखंडदेशदेहरादूनराज्य

देहरादून में अवैध हथियार सप्लाई करने वाला आरोपी काउंसलर असलहा के साथ गिरफ्तार

Listen to this article

देहरादून। डोईवाला पुलिस ने नागल ज्वालापुर गांव में एक व्यक्ति की संदिग्ध मौत की जांच करते हुए अवैध हथियार बिक्री के आरोपी में एक आरोपी को गिरफ्तार कर उसके पास से काफी मात्रा में असलहा बरामद किया है।

जिसमें पुलिस ने एक आरोपी को गिरफ्तार किया है। बीते चार अगस्त को नागल ज्वालापुर में मृतक राहुल राहुल पुत्र हुकम सिंह निवासी नागर ज्वालापुर का संदिग्ध परिस्थितियों में बरामद किया गया। जिसमें मुकदमा दर्ज कर पुलिस ने जांच शुरू की थी।

शव के पास से पुलिस को एक देसी पिस्टल कॉटेज व जिंदा कॉटेज भी बरामद हुए थे। इसकी जांच में पुलिस को पता चला कि पिस्टल और कॉटेज मृतक ने ही कुछ दिन पहले ही खरीदे थे।

पुलिस ने जांच के दौरान आठ अगस्त को मृतक राहुल को पिस्टल बेचने वाले आरोपी आलोक शौरी पुत्र स्वर्गीय जगमोहन शौरी निवासी 56 सुमन नगर धर्मपुर वार्ड नंबर 38 देहरादून को गिरफ्तार कर लिया। आलोक शौरी ने पुलिस को बताया कि वो नशे का आदी था।

और 2005 में न्यू गोल्डन फ्यूचर सोसाइटी रिहैब सेंटर गुजराड़ा में रहता था उसके बाद से बाहर आकर उसने कला फाउंडेशन आर्य नगर से काउंसलर का कोर्स कोर्स किया था और 2012 से रिहैब सेंटरों में काउंसलर का काम करने लगा। मृतक राहुल भी नशे का आदि था।

 

2016 में रिस्पना पुल स्थित न्यू लाइफ लाइन केयर रिहैब सेंटर में काउंसलर का काम करने के दौरान उसकी मुलाकात मृतक राहुल से हुई। नशा मुक्ति केंद्र में रहने के दौरान उसका संपर्क शामली के रहने वाले आकाश नाम से युवक से हुआ।

आकाश ने आलौक शौरी से कहा कि वो उसे शामली से तमंचे लाकर दे सकता है। जिसे वह देहरादून में ऊंचे दामों पर बेचकर पैसा कमा सकता है। जिसके बाद आरोपी आलोक शौरी शामली से तमंचे पर लाकर देहरादून क्षेत्र में ऊंचे दाम में बेचने लगा।

जिसके बाद आलोक ने मृतक राहुल 90,000 रूपए में एक देसी पिस्टल और पांच जिंदा कार्टेज दिए। जो मृतक राहुल के पास से बरामद की गई थी।

गिरफ्तार आरोपी ने पुलिस को बताया कि वह कुछ दिन पूर्व तक हर्रावाला क्षेत्र में प्रयास रिहैब सेंटर में काउंसलर का काम करता था। और वर्तमान में देहरादून में फाइनेंस का काम कर रहा था।

इसी की आड़ में वो पिछले 1 साल से अवैध हथियारों का व्यवसाय कर रहा था। उसके पास से पुलिस को काफी मात्रा में तमंचे और कार्टेज मिले हैं। जिसमें वह पिस्टल भी शामिल है।

जो मृतक राहुल के पास मिला था। और जिसे उसने आलोक को वापस कर दिया था। उधर कोतवाल मनोज मैनवाल ने कहा कि पुलिस ने अवैध हथियार बेचने वाले एक आरोपी को गिरफ्तार किया है। और मृतक राहुल की मौत की जांच जारी है।

आरोपी से यह हुआ बरामद

आरोपी के पास से एक तमंचा 12 बोर, एक तमंचा 315 बोर, एक तमंचा बैरल, तीन पिस्टल 32 बोर, पांच जिंदा कार्टेज और 7 ब्लैक कार्टेज बरामद किए गए हैं।

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!