उत्तराखंडदेशदेहरादूनधर्म कर्मपर्यटनविदेशस्वास्थ्य और शिक्षा

जौलीग्रांट में तैयार हो रहा भव्य एयरपोर्ट टर्मिनल, दिखेगी ब्रह्म कमल की झलक और भी होंगी कई खूबियां

खबर को सुने

353 करोड़ की लागत से 42,776 स्क्वायर मीटर में तैयार हो रहा टर्मिनल

Dehradun. देहरादून के जौलीग्रांट में उत्तराखंड संस्कृति की झलक लिए एक शानदार भव्य टर्मिनल को तैयार किया जा रहा है। जिसका लगभग अस्सी फीसदी कार्य पूरा कर लिया गया है।

नए टर्मिनल को 353 करोड़ रूपए की लागत से तैयार किया जार रहा है। जिसमें वर्षा जल संचय, सौर ऊर्जा और इको फ्रैंडली चीजों को भी शामिल किया गया है। इस नए टर्मिनल को पूराने टर्मिनल के पास तैयार किया जा रहा है। जिसके अपग्रेडेशन का काम अंर्ति चरण में चल रहा है।

इस प्रोजेक्ट के पहले चरण में डोमेस्टिक टर्मिनल बिल्डिंग के साथ-साथ यूटिलिटी ब्लॉक, कार की पार्किंग, सीवेज टर्मिनल प्लांट जैसी चीजें बनाई जा रही हैं। बारिश के पानी को संरक्षित करने के लिए रेनवॉटर हार्वेस्टिंग प्लांट स्थापित किया जा रहा है।

नए एयरपोर्ट टर्मिनल का कुल एरिया 42,776 स्क्वायर मीटर होगा, जिसमें करीब 1800 यात्री एक बार में मौजूद रह सकेंगे। पूराने एयरपोर्ट टर्मिनल की क्षमता काफी कम थी, जिसे करीब 8 गुना बढ़ाया गया है।

इस बिल्डिंग में अराईवल लाउंज ग्राउंड फ्लोर पर होगा। बिल्डिंग में 36 चेक इन काउंटर और साथ 4 एयरोब्रिज भी होंगे। बिल्डिंग में सेल्फ चेक-इन कियोस्क और इन लाइन बैगेज स्क्रीनिंग फैसिलिटी भी होगी। एयरपोर्ट पर 6465 स्क्वायर रिटेल स्पेस भी मुहैया करवाया जाएगा। जिससे कि आसपास स्थानीय युवाओं के लिए रोजगार व रेवेन्यू में मदद मिलेगी।

 राज्य पुष्प ब्रह्म कमल की झलक

Dehradun. देहरादून एयरपोर्ट के डिजाइन में खास तौर पर राज्य पुष्प ब्रह्म कमल को शामिल किया गया है। इससे  एयरपोर्ट पर यात्रियों को टर्मिनल में उत्तराखंड की झलक देखने को मिलेगी। इस नई बिल्डिंग में ईको फ्रेंडली सिस्टम रेनवॉटर हार्वेस्टिंग, सीवेज ट्रीटमेंट प्लांट, सोलर पावर सिस्टम मौजूद होगा। पहले चरण का करीब 80 फीसदी काम पूरा किया जा चुका है। और अक्टूबर 2021 तक ये प्रोजेक्ट पूरा हो जाएगा।

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!