उत्तराखंडदेशदेहरादूनधर्म कर्मपर्यटनराजनीति

लोकार्पण कार्यक्रम में जगह नहीं मिलने पर बैरंग लौटे एयरपोर्ट सलाहकार समिति के तीनों सदस्य, सुरक्षा कर्मियों ने की धक्का-मुक्की

Listen to this article

एयरपोर्ट पर धक्का-मुक्की और अव्यवस्थाओं का बोलबाला, भाजपा नेता भी बाहर रहे खड़े

डोईवाला। नए टर्मिनल के लोकार्पण के मौके पर देहरादून एयरपोर्ट पर अव्यवस्थाओं का बोलबाला दिखाई दिया।

टर्मिनल के आगे कार्यक्रम स्थल पर टेंट में बैठने की पर्याप्त व्यवस्था नहीं थी। जिस कारण काफी लोग खड़े रहे। वहीं कई लोग बीच कार्यक्रम से बैरंग लौट गए। दो दिन पहले एयरपोर्ट प्रशासन की तरफ से कहा गया था कि लोकार्पण के दिन नए टर्मिनल में जाने के लिए मीडियाकर्मियों को पास की जरूरत नहीं है। मीडिया के लोग अपना आई कार्ड दिखाकर कवरेज के लिए अंदर जा सकते हैं।

जबकि लोकार्पण के समय मीडिया के लोगों को धक्के देकर बाहर कर दिया गया। और सुरक्षा कर्मियों ने उनके साथ बदसलूकी की। वहीं एयरपोर्ट प्रशासन मूकदर्शक बना सब देखता रहा। भाजपा के जिलाध्यक्ष शमशेर पुण्डीर, मंडल अध्यक्ष विनय कंडवाल, जिला मीडिया प्रभारी संपूर्ण सिंह रावत को भी बाहर ही खड़ा रखा गया। क्षेत्रीय सभासद राजेश भट्ट भी अंदर नहीं जा सके।

एयरपोर्ट सलाहकार समिति के सदस्य रविंद्र बेलवाल और दो अन्य सदस्यों को भी कार्यक्रम में बैठने की जगह नहीं दी गई। जिस कारण तीनों सदस्य बीच कार्यक्रम से चले गए। रविंद्र बेलवाल ने कहा कि बैठने का स्थान नहीं मिल पाने के कारण वो बीच कार्यक्रम से उठकर आ गए थे।

वहीं डोईवाला प्रशासन की तरफ से पास बनाकर एयरपोर्ट पहुंचे लोगों को भी पास दिखाने के बावजूद टर्मिनल में नहीं घुसने दिया गया। जिसकी शिकायत उन्होंने पूर्व केंद्रीय मंत्री और क्षेत्रीय सांसद निशंक से भी की है। वहीं भाजपा नेताओं ने भी कहा कि एयरपोर्ट प्रशासन के इंतजाम नाकाफी थे। कुल मिलाकर लोकार्पण पर फूंके गए लाखों रूपए की एयरपोर्ट प्रशासन ने बर्बादी की है।

वहीं एयरपोर्ट निदेशक प्रभाकर मिश्रा ने कहा कि एयरपोर्ट के नए टर्मिनल की कवरेज के लिए किसी पास की जरूरत नहीं थी। और उन्होंने स्थानीय मीडिया को अंदर आने के लिए सुरक्षाकर्मियों को बोल रखा था। फिर भी उनकी तरफ से इस बात का संज्ञान लेकर संबधित अधिकारियों से बात की जाएगी।

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!