अपराधउत्तराखंडदेहरादून

शारीरिक संबंध बनाने के बाद की थी गला घोटकर महिला की हत्या, पुलिस ने किया हत्याकांड का खुलासा, एक गिरफ्तार

खबर को सुने

डोईवाला। कोतवाली पुलिस ने एक महिला के सनसनीखेज मर्डर का खुलासा करने में सफलता पाई है।

22 अगस्त को थानों रानीपोखरी के जंगल में धारकोट रोड के किनारे जंगल में एक अज्ञात युवती का शव बरामद हुआ था। जिसका पुलिस ने खुलासा किया है। बीते तीन सितंबर को कुशाल सिंह पुत्र कलम सिंह निवासी कुंडी पट्टी केमर जिला टिहरी गढ़वाल ने एक लिखित तहरीर पुलिस को देते हुए कहा था कि बीते दस अगस्त को उसकी पुत्री जम्मूतरी देवी उर्फ ज्योति घर से जौलीग्रांट में नौकरी करने के लिए घर से निकली थी।

और चौदह अगस्त से उनकी लड़की का मोबाइल बंद आ रहा है। पुलिस ने सात सिंतबर को कुशाल सिंह को बुलाकर बरामद शव के पास से चप्पल, पाजेब, कपड़े की फोटो दिखाई तो कुशाल सिंह ने पुलिस को बताया कि कपड़े व सामान उसकी लड़की ज्योति के हैं।

सीसीटीवी फुटेज सीडीआर का अवलोकन व आसपास के लोगों से पूछताछ में पुलिस को पता चला कि मृतिका ज्योति, गौतम (58) पुत्र स्व0 इतवार सिंह निवासी वार्ड नंबर 4 चकचौबेवाला थाना रानीपोखरी से फोन से काफी बात करती थी। सख्ताई से पूछताछ में गौतम ने पुलिस को बताया गया कि वह जुलाई 2021 से ज्योति के संपर्क में था। और ज्योति को अस्पताल में ही नौकरी लगवाना चाहता था।

लेकिन वो ज्योति की नौकरी पर नहीं लगवा पा रहा था। उसके ज्योति से शारीरिक संबंध बन गए थे। नौकरी नहीं लगवाने पर ज्योति दोनों के बीच के संबधों को परिवार व अस्पताल के मालिक से बताने का दबाव बना रही थी।

पुलिस को बताया कि वो पिछले 25 साल से जौलीग्रांट में नौकरी करता है। और ब्लैकमेल के कारण वो मानसिक तनाव में आ गया था। जिस कारण वो बीते 15 अगस्त को ज्योति को अपनी मोटरसाइकिल में बिठाकर थानों से धारकोट रोड पर ले गया। जहां उसने ढलान के पास झाड़ियों में उसकी चुन्नी से गला दबाकर उसकी हत्या कर दी।

और उसके सलवार सूट को उतार दिया। जिससे पहचान ना हो सके। और उसके कपड़ों से भरे बैग को सैन चौकी भानियावाला से आगे लगभग 200 मीटर जंगल में फेंक दिया। उसके द्वारा ज्योति को दिए गए फोन का सिम निकालकर तोड़ने के बाद फोन बंद कर अपने पास रख लिया।

पुलिस ने आरोपी की निशानदेही पर सैन चौकी से 200 मीटर आगे नाले के पास से मृतिका ज्योति के कपड़ों से भरे बैग और मोबाइल को बरामद कर लिया। जिस कारण आरोपी को धारा 302, 201  के अंतर्गत गिरफ्तार किया गया है।

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!