उत्तराखंडदेहरादूनधर्म कर्मपर्यटनराजनीतिराज्य

नई शिक्षा नीति पर डॉ निशंक का बड़ा बयान- कहा ऐसे बनेगा भारत महान

नई शिक्षा नीति के शिक्षा, विज्ञान और संस्कृति हैं तीन आधार: डॉ निशंक

नयी राष्ट्रीय शिक्षा नीति से भारत बनेगा विश्वगुरु : निशंक

Dehradun. सरस्वती शिशु विद्या मंदिर कोटी इंटर कॉलेज अठुरवाला में राष्ट्रीय शिक्षा नीति एवं भविष्य का भारत विषय पर एक कार्यक्रम का आयोजन किया गया।

जिसमें मुख्य अतिथि पूर्व शिक्षा मंत्री भारत सरकार रमेश पोखरियाल निशंक ने दीप प्रज्जवलित कर कार्यक्रम का शुभारंभ किया। डॉ निशंक ने ‘राष्ट्रीय शिक्षा नीति-2020 और भविष्य का भारत’ विषय पर विद्यार्थियों के साथ संवाद किया।

उन्होंने कहा 21वीं सदी का ज्ञान और तकनीक आधारित विश्व भारत की ओर काफी उम्मीद भरी दृष्टि से देख रहा है। इसी को दृष्टिगत रखते हुए हमने यशस्वी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व एवं मार्गदर्शन में नई शिक्षा नीति को संस्तुति प्रदान की थी।

नई शिक्षा नीति के शिक्षा, विज्ञान और संस्कृति तीन आधार है। 21वीं सदी का ज्ञान, समग्र ब्रह्मांड का ज्ञान अपनी संस्कृति के साथ बच्चों को हम सिखाएंगे तो ही उनका समग्र विकास होगा।

एक भारत श्रेष्ठ भारत के संकल्प को पूर्ण करने में हमारे शिक्षण संस्थान अद्वितीय योगदान कर सकते हैं, हमारी प्राचीन धरोहर को पुनर्प्राणित कर सकते हैं।

डॉ निशंक ने कहा भारत के युवावर्ग को कौशलकारी शिक्षा प्रदान करने का जो प्रण हमारे माननीय प्रधानमंत्री जी ने लिया है उसमें हमारी सहभागिता आवश्यक है। भारत को पुनः एक बार विश्वपटल पर अग्रणी देश कैसे बनाया जाए, युवा को जीविकोपार्जन का प्रशिक्षण किस प्रकार से मिले ऐसा प्रयास हम सभी को करना है।

इस नीति के माध्यम से ही प्रधानमंत्री का ‘एक भारत: श्रेष्ठ भारत’ एवं ‘आत्मनिर्भर भारत’ का विजन साकार होगा। कार्यक्रम में विशिष्ट अतिथि वेद प्रकाश सेमवाल, प्रति कुलपति डॉ राजेश नैथानी, संपूर्णानंद थपलियाल, प्रधानाचार्य महिताब सिंह गुसाईं, सम्पूर्ण सिंह रावत,  कैप्टन शूरवीर सिंह रावत, मनोज रॉयल, रविन्द्र बेलवाल, नरेंद्र सिंह नेगी, राजेंद्र बडोनी, जयदेव डोभाल, महेश गुप्ता,

पुरुषोत्तम डोभाल, नीलम नेगी, रीता नेगी, चंद्रकला ध्यानी, कोमल देवी, शंकर, सुमेर नेगी, अंकित काला, विनोद नेगी, दीपक नेगी, सुरेश डोभाल, दिनेश भट्ट, देवराज शर्मा, बेताल सिंह नेगी, हरविंदर सिंह, राजेश कुंवर, शिशुपाल सिंह रावत, ललित बुढाकोटी, अशोक कुमार, सतेश्वरी राणा, कमला तिवाड़ी, सुंदर लोधी, पंकज शर्मा, ह्दयराम डोभाल आदि उपस्थित रहे ।

ये भी पढ़ें:  सीएम ने की चम्पावत को आदर्श जिला बनाने के लिए तैयार की जा रही कार्ययोजना और गतिमान कार्यों की समीक्षा

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!