उत्तराखंड

श्री महंत इन्दिरेश अस्पताल में हृदय रोगियों के लिए इलक्ट्रोफिजियोलाॅजी सुपर-स्पेशलिटी उपचार शुरू

Listen to this article

देहरादून। श्री महंत इन्दिरेश अस्पताल में ह्दय रोगियों के उपचार में एक नई तकनीक और जुड़ गई है। श्री महंत इन्दिरेश अस्पताल के कार्डियोलाॅजी विभाग में सुपर-स्पेशलिटी इलैक्ट्रोफिजियोलाॅजी जाॅच व प्रोसीजर की सुविधा शुरू हो गई है। सोमवार को एचडीएफसी बैंक ने सीएसआर गतिविधि के अन्तर्गत श्री महंत इन्दिरेश अस्पताल को इलैक्ट्रोफिजियोलाॅजी मशीन भेंट की। श्री महंत इन्दिरेश अस्पताल के चेयरमैन श्रीमहंत देवेन्द्र दास जी महाराज ने काॅर्डियोलाॅजी टीम को बधाई दी व ह्दय रोगियों को बेहतर से बेहतर उपचार दिए जाने के लिए प्रोत्साहित किया। श्री महंत इन्दिरेश अस्पताल के मुख्य चिकित्सा अधीक्षक डाॅ प्रेरक मित्तल व कार्डियोलाॅजी विभाग के विभागाध्यक्ष डाॅ सलिल गर्ग ने एचडीएफसी बैंक का अभार व्यक्त किया। सामान्य मरीजों के अलावा आयुष्मयान, सीजीएचएस, ईसीएचएस, ईएसआईसी गोल्डन कार्ड योजना लाभार्थियों को भी उपचार मिलेगा।

सोमवार को काॅर्डियोलाॅजी विभाग में इलैक्ट्रोफिजियोलाॅजी मशीन का विधिवित शुभारंभ एचडीएफसी बैंक के राज्य सर्कल हेड बकुल सिक्का, एचडीएफसी बैंक की कलस्टर हेड सारिका गुप्ता, डाॅ प्रेरक मित्तल व डाॅ सलिल गर्ग ने संयुक्त रूप से किया। इलैक्ट्रोफिजियोलाॅजी मशीन से हार्ट मरीजों के इलैक्ट्रिकल सिस्टम से सम्बन्धित परेशानियों की जाॅच व उपचार की जाती है। इस मशीन के प्रोसीजर ह्दय गति से सम्बन्धित अनियमितता व असमानता का उपचार करते हैं। डब्ल्यू पी डब्ल्यू बीमारी की जाॅच व बीमारी का पता लगाने में कारगर है। उच्च जोखिम वाले पेशेवरों, डिफेंस मेडिकल फिटनेस, पायलट के मेडिकल फिटनेस में इलैक्ट्रोफिजियोलाॅजी फिटनेस रिपोर्ट अनिवार्य मांगी जाती है। ऐसे पेशेवरों को ड्यूटी ज्वाइन करने से पूर्व इलैक्ट्रोफिजियोलाॅजी फिटनेस रिपोर्ट दिखानी होती है।

इस अवसर पर कैथ लैब डायरेक्टर डाॅ तनुज भाटिया, चिकित्सा अधीक्षक डाॅ अजय पंडिता, डाॅ गौरव रतूड़ी, डाॅ रिचा शर्मा, डाॅ साहिल महाजन, मुख्य वित्त अधिकारी अशोक स्वामी सहित कार्डियोलाॅजी विभाग के नर्सिंग स्टाफ व सहायक स्टाफ उपस्थित थे।

ये भी पढ़ें:  बिना विपक्ष के हुई कार्यमंत्रणा की बैठक, 27 फरवरी को बजट पेश करेगी सरकार

Related Articles

Back to top button