उत्तराखंडदेशदेहरादूनराजनीति

किस्तों में नहीं पूरे गन्ने का बकाया भुगतान करे सरकार: किसान सभा

Listen to this article

Dehradun. पूरे गन्ना बकाया भुगतान सहित किसानों की कई अन्य महत्वपूर्ण समस्याओं के समाधान को डोईवाला गन्ना सोसायटी किसान सभागार में किसानों की एक बैठक सम्पन्न हुई।

बैठक में किसानों ने गन्ने के एकमुश्त बकाया भुगतान की मांग करते हुए सरकार को आंदोलन की चेतावनी भी दी। किसान सभा जिलाध्यक्ष दलजीत सिंह ने बैठक को सम्बोधित करते हुए कहा कि किसानों को संगठित होकर लड़ाई लड़नी चाहिए।

किसान सभा के प्रांतीय महामंत्री गंगाधर नौटियाल ने बैठक को सम्बोधित करते हुए संगठन के विस्तार पर जोर देते हुए कहा कि किसान सभा देश में किसानों का सबसे बड़ा संगठन है ये किसी व्यक्ति विशेष की प्रॉपर्टी नही बल्कि लोकतांत्रिक किसान संगठन है। जिसमे संगठन के सम्मेलन के माध्यम से कमेटियों का गठन किया जाता है।

उन्होंने कहा कि यदि हमें सरकार की किसान विरोधी नीतियों का मुकाबला करना है तो संगठन को मजबूत करना पड़ेगा। इसके लिए  हर गांव किसान सभा, हर किसान किसान सभा के नारे के साथ किसानों को सदस्य बनाकर उनकी कमेटी बनाते हुए उनको संगठित किया जाना चाहिए। किसान सभा जिला संयुक्त सचिव याक़ूब अली ने मिल द्वारा किसानों को किस्तों में किये जा रहे भुगतान की निंदनीय बताया।

बलबीर सिंह और संचालक ज़ाहिद अंजुम ने कहा कि सरकार का ध्यान जनता के मुद्दों पर नही है उन्होंने सुसवा नदी में फैली गंदगी और सौंग नदी में सरकार द्वारा खनन नीति का विरोध करते हुए कहा कि सुसवा नदी में बहने वाला पानी एक जहरीले रसायन में तब्दील हो गया है।

जिससे भयंकर बीमारी के फैलने का खतरा बना हुआ है। बैठक भारतीय किसान सभा जिलाध्यक्ष  दलजीत सिंह की अध्यक्षता और ज़ाहिद अंजुम के संचालन में बैठक सम्पन्न हुई।

बैठक में अनूप पाल, अमरीक सिंह, फूल सिंह, पूरण सिंह, जगजीत सिंह, किशन सिंह, अब्दुल खालिद, हरबंश, जोगिंदर सिंह, गुरचरण सिंह, राशिद अली, नवाबुद्दीन, मामराज, जगदीश, महेन्द्र सिंह, भगवान दास, नरेन्द्र सिंह, चतर सिंह, सलीम अहमद, अय्यूब अली, अशोक तिवारी, राजेश सैनी, हरिसिंह, इन्द्र सिंह, श्री चंद, गुलाम साबिर, भूपसिंह आदि उपस्थित रहे।

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!