अपराधउत्तराखंडदेहरादूनराज्य

डोईवाला में दिन-दहाड़े व्यापारी के घर आधा दर्जन बदमाशों ने दिया डकैती की वारदात को अंजाम

Listen to this article

देहरादून। डोईवाला मुख्य बाजार के पास स्थित वार्ड नं 13 घराट वाली गली में बेखौफ बदमाशों ने दिन दहाड़े एक व्यापारी घर मे घुसकर एक बड़ी डकैती की घटना को अंजाम दिया।

 

करीब आधा दर्जन बदमाश आज दोपहर 12 बजे डोईवाला के व्यापारी शीशपाल अग्रवाल पुत्र पुरण अग्रवाल के घर मे घुस गए।

और घर मे मौजूद महिलाओं को बंधक बनाकर एक घंटे तक डकैती की घटना को अंजाम दिया।

 

बताया जा रहा है कि बदमाशों के हाथों में हथियार थे। जिनके बल पर उन्होंने डकैती की घटना को अंजाम दिया।

उस वक़्त शीशपाल अग्रवाल अपनी डोईवाला चौक पर स्थित दुकान पर थे।

घटना से पूरे क्षेत्र में सनसनी फैल गई। सूचना पाकर पुलिस भी मौके पर पहुंची।

बताया जा रहा है कि बदमाशों ने घर मे नकदी और ज्वैलरी की डकैती की है।

पुलिस ने पूरे क्षेत्र की घेराबंदी कर बदमाशों की धर पकड़ शुरू कर दी है।

घर पर थी सिर्फ महिलाएं

देहरादून। जिस वक्त हथियारबंद बदमाशों ने डकैती को अंजाम दिया उस वक्त घर मे घर की एक महिला और दो नौकरानियां मौजूद थी।

शीशपाल खुद डोईवाला चौक पर अपनी परचून की दुकान पर थे।

महिलाओं को बंधक बनाकर बदमाशों ने लूट की वारदात को अंजाम दिया।

खबर विस्तार से…….

कैबिनेट मंत्री के भाई के घर आधा दर्जन बदमाशों ने दिया डकैती की वारदात को अंजाम

डोईवाला। डोईवाला मुख्य बाजार के पास स्थित वार्ड नं 13 घराट वाली गली में बेखौफ बदमाशों ने दिन दहाड़े एक व्यापारी घर मे घुसकर एक बड़ी डकैती की घटना को अंजाम दिया।

 

करीब आधा दर्जन बदमाश शनिवार दोपहर 12 बजे डोईवाला के व्यापारी और कैबिनेट मंत्री व ऋषिकेश विधायक प्रेमचंद अग्रवाल के चेचेरे भाई शीशपाल अग्रवाल पुत्र पुरण अग्रवाल के घर मे घुस गए। और घर मे मौजूद महिलाओं को बंधक बनाकर एक घंटे तक डकैती की घटना को अंजाम दिया।

बताया जा रहा है कि बदमाशों के हाथों में हथियार थे। जिनके बल पर उन्होंने डकैती की घटना को अंजाम दिया। उस वक़्त शीशपाल अग्रवाल अपनी डोईवाला चौक पर स्थित दुकान पर थे। घटना से पूरे क्षेत्र में सनसनी फैल गई। सूचना पाकर पुलिस भी मौके पर पहुंची। बताया जा रहा है कि बदमाशों ने घर मे नकदी और ज्वैलरी की डकैती की है। पुलिस ने पूरे क्षेत्र की घेराबंदी कर बदमाशों की धर पकड़ शुरू कर दी।

सूचना पाकर एसएसपी देहरादून सीओ और कोतवाली पुलिस मौके पर पहुंची। और छानबीन शुरू की। डोईवाला में दिन दहाड़े हुई डकैती की घटना से पूरे क्षेत्र में सनसनी फैल गई। शीशपाल अग्रवाल के घर जिस वक्त डकैती हुई उस वक्त वो डोईवाला चौक स्थित अपनी दूकान पर थे। जबकि उनका बेटा दिल्ली में है।

जिस कारण बेखौफ डकैतों ने करीब एक घंटे तक डकैती की घटना को अंजाम दिया। देहरादून एसएसपी दलीप सिंह कुंवर ने कहा कि घटना दोपहर 12 से 1 बजे के बीच की है। जिस पर पुलिस की पांच-छह टीमों को लगा दिया गया है। पुलिस जल्द ही डकैती के आरोपियों को गिरफ्तार करेगी।

घर पर थी सिर्फ महिलाएं

डोईवाला। जिस वक्त हथियारबंद बदमाशों ने डकैती को अंजाम दिया। उस वक्त घर मे घर की एक महिला और दो नौकरानियां मौजूद थी। शीशपाल खुद डोईवाला चौक पर अपनी परचून की दुकान पर थे। महिलाओं को बंधक बनाकर बदमाशों ने डकैती की घटना को अंजाम दिया। डकैती के वक्त शीशपाल अग्रवाल की पत्नी ममता अग्रवाल और उनकी दो नौकरानियां लक्ष्मी व आरती घर पर थी।

परिवार के सदस्यों को अच्छी तरह जानते थे डकैत

डोईवाला। शीशपाल अग्रवाल के घर दिन दहाड़े डकैती डालने वाले डकैत अग्रवाल परिवार को अच्छी तरह जानते थे। उनकी पत्नी ममता अग्रवाल ने कहा कि डकैती के वक्त डकैतों ने पिस्तौल व चाकू दिखाकर उनसे कहा कि उनका बेटा उनके कब्जे में है। और इस तरह डकैतों ने उनके घर में डकैती को अंजाम दिया।

छह लोग घर में घुसे एक बाहर था खड़ा

डोईवाला। डोईवाला मुख्य बाजार के अग्रवाल परिवार के यहां हुई डकैती में छह डकैत घर के अंदर घुसे थे। जबकि एक डकैत बाहर पहरा दे रहा था। कि जैसे ही शीशपाल अग्रवाल दुकान से आएं या कोई और उनके घर की तरफ आए तो वो अंदर डकैतों को तुरंत इसकी सूचना दे दें। इसलिए डकैती में छह से अधिक लोगों के होने की संभावनाएं जताई जा रही हैं। आसपास लगे सीसी कैमरों में भी कुछ लोग बाहर संदिग्ध दिखाई दे रहे हैं।

सफेद रंग की स्कूटियों में भागे डकैत

डोईवाला। डोईवाला में डकैती को अंजाम देने वाले डकैत सफेद रंग की स्कूटियां लेकर फरार हुए हैं। क्योकि डोईवाला में जिस स्थान पर डकैती हुई है। वहां आसपास में काफी भीड़ भाड़ रहती है। जिस कारण कार से भागने में दिक्कतें आ सकती हैं। बताया जा रहा है कि डकैतों ने अच्छे कपड़े पहने थे। और वो स्कूटियां लेकर फरार हुए हैं।

एक नौकरानी का मंगल सुत्र छोड़ गए डकैत

डोईवाला। नौकरानियों का कहना है कि डकैतों ने दोनों नौकरानियों में से एक की कान की बालियां ले ली। जबकि दूसरी नौकरानी के कहने से डकैतों ने उनका मंगलसुत्र छोड़ दिया। जिससे पूरा मामला संदिग्ध प्रतीत होता है। पुलिस दोनों नौकरानियों को पूछताछ के लिए ले गई है।

डोईवाला में डकैती की पहली घटना है: प्रेमचंद अग्रवाल

डोईवाला। कैबिनेट मंत्री प्रेमचंद अग्रवाल ने कहा कि डोईवाला में अग्रवाल परिवार के यहां डकैती की घटना डोईवाला में पहली इस तरह की घटना है। जो सरकार व पुलिस के लिए एक चुनौती है। सूचना पाकर डोईवाला विधायक बृजभूषण गैरोला व पूर्व राज्य मंत्री करण बोरा भी मौके पर पहुंचे।

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!