अपराधउत्तराखंडदेहरादूनराजनीतिराज्य

जौलीग्रांट सरकारी नहर में पानी की कमी होने से सिंचाई का संकट गहराया

डोईवाला। कालूवाला-जौलीग्रांट सरकारी नहर में पानी का संकट होने से सैकड़ों किसान परेशान हैं।

कालूवाला-जौलीग्रांट सरकारी नहर में एक महीने से सिंचाई को पानी का संकट होने के कारण गन्ना समिति के चेयरमैन

मनोज नौटियाल के नेतृत्व में किसानों ने जिलाधिकारी देहरादून सोनिका से मिलकर सिंचाई की समस्या के निदान

की मांग की। कालू वाला से निकलने वाली इस नहर से बड़ोंवाला और जौलीग्रांट की लगभग अट्ठारह सौ बीघा भूमि

सिंचित होती है। लेकिन अगस्त माह में आपदा के कारण नहर का हेड क्षतिग्रस्त होने के कारण नहर में पानी की समस्या पैदा

हो गई है। जिसकी वजह से फरवरी माह में ही किसानों के आगे बरसीन, गेहूं व गन्ने की फसल को बचाने का संकट पैदा हो

गया है। जिस कारण  किसानों के द्वारा समस्या के निदान के लिए जिलाधिकारी के पास गुहार लगाई गई है।

समस्या का संज्ञान लेते हुए डीएम ने एडीएम वित्त व अधिशासी अभियंता दून कैनाल को निर्देशित किया कि

किसानों की इस समस्या का निराकरण शीघ्र किया जाए। जिससे कि किसानों की फसल को नुकसान न पहुंचे।

इस दौरान तेग सिंह सोलंकी, सुधीर रावत, फतेह सिंह नेगी, सुशांत सिंधवाल, आशु पाल, अरुण वर्मा, सुखदेव नेगी, अनिल

मनवाल, प्रदीप पाल, ईश्वर पाल, मनीष कुमार, मंगल सिंह, देवेंद्र सिंह, सुभाष पाल, विक्रम पुंडीर, प्रेम सिंह चौहान, हरीश खत्री, आदि किसान शामिल रहे।

ये भी पढ़ें:  मुख्यमंत्री धामी ने जनता से फीडबैक लेकर अधिकारियों को दिए निर्देश

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!