उत्तराखंडएक्सक्यूसिवदेशदेहरादूनराजनीति

काले झंड़े लेकर भाजपा नेताओं की गाड़ियों के आगे लेटे किसान व कांग्रेस कार्यकर्ता

Listen to this article

पेराई सत्र के दौरान चीनी मिल गेट पर गन्ना मूल्य बढाने को लेकर हंगामा

डोईवाला। सरकार द्वारा गन्ने का रेट घोषित नहीं किए जाने से नाराज किसानों व कांग्रेस नेताओं ने मिल गेट पर धरना-प्रदर्शन कर जमकर नारेबाजी करते हुए भाजपा नेताओं को काले झंडे दिखाए।

पूर्व निधारित कार्यक्रम के अनुसार सैंकड़ों किसान संयुक्त किसान मोर्चे के बैनर तले डोईवाला गन्ना मिल गेट पर इकट्ठा हुए। मोर्चे के अध्यक्ष ताजेन्द्र सिंह की अध्यक्षता में किसान गन्ने के रेट की घोषणा न होने से नाराज होकर धरने पर बैठ गए। जैसे ही भाजपा नेताओं की गाड़ियां मिल गेट के पास पहुंची। तो किसान मोर्चे के लोग और कांग्रेस कार्यकर्ता हाथों में काले झंड़े लेकर सरकार के खिलाफ नारेबाजी करते लगे।

इस दौरान राजीव गांधी पंचायत राज संगठन के प्रदेश संयोजक मोहित उनियाल पूर्व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत के गाड़ियों के काफिले के आगे लेट गए। किसी तरह पुलिस ने उन्हे वहां से हटाया। इस दौरान जबरदस्त नारेबाजी होती रही। और चीनी मिल गेट पर कुछ देर तक अफरा-तफरी जैसा माहौल रहा। किसी तरह गाड़ियों का काफिला चीनी मिल के अंदर दाखिल हुआ।

धरने पर बैठे किसानों ने कहा कि पिछले पांच वर्षों से प्रदेश में गन्ने का कोई रेट नही बढ़ाया गया जबकि इन पांच सालों में मजदूरी के अलावा बीज, खाद, एवं कीटनाशक दवाइयों में बेहताशा वृद्धि के कारण गन्ने की लागत मूल्य में बेहताशा बढ़ोतरी हुई है। पंजाब, हरियाणा, और उत्तरप्रदेश जैसे राज्यों ने गन्ने के रेट की घोषणा कर दी है। लेकिन उत्तराखंड सरकार आंख-मूंदे बैठी हुई है।

किसानों ने 450 रुपये कुन्तल गन्ने के मूल्य की मांग को लेकर डोईवाला तहसीलदार के माध्यम से उत्तराखंड सरकार को ज्ञापन भेजा। संचालन उमेद बोरा और याक़ूब अली ने किया। मौके पर अखिल भारतीय किसान सभा के प्रदेश अध्यक्ष सुरेन्द्र सिंह सजवाण, संयुक्त मोर्चे के अध्यक्ष ताजेन्द्र सिंह, सुरेंद्र सिंह खालसा, किसान सभा जिला सचिव कमरूद्दीन, जिलाध्यक्ष दलजीत सिंह, संयुक्त सचिव याक़ूब अली,

कृषक फेडरेशन के अध्यक्ष उमेद बोरा, बलबीर सिंह, गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के अध्यक्ष गुरदीप सिंह, मोहित यूनियन, गौरव मल्होत्रा, सुरेन्द राणा, हाजी अमीर हसन, अजीत सिंह प्रिंस, जसबीर सिंह जस्सी, शंकर सिंह कन्याल, गन्ना सोसाईटी के चेयरमैन मनोज नौटियाल, सागर मनवाल, फुरकान अहमद कुरैशी, राजू मौर्य, राजेन्द्र पुरोहित, हरबन्स सिंह, पूरण सिंह, सरजीत सिंह, मुहम्मद असलम, जगजीत सिंह, बसारत अली, जसबीर सिंह, प्रताप सिंह, मदनजीत सिंह, शमशाद अली, इस्लामुद्दीन, जरनैल सिंह, अनूप पाल, अय्यूब हसन, राजेश कुमार, आदि सैकड़ों किसान उपस्थित रहे।

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!