उत्तराखंडएक्सक्यूसिवदेशदेहरादूनराजनीति

कांग्रेस ने भाजपा को दूसरी पटखनी देकर रचा इतिहास

Listen to this article

तीन में से दो जिला पंचायत सीटों पर कांग्रेस का करिश्मा

देहरादून। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत की विधानसभा डोईवाला में भाजपा ने खराब प्रदर्शन करते हुए जिला पंचायत सदस्य की तीन में से दो सीटें गंवा दी।

24 द्वारा जिला पंचायत सीट पर अश्विनी बहुगुणा ने 51 वोट से जीत दर्ज की। भाजपा अधिकृत प्रत्याशी अनिल तीर्थवाल को तीसरा स्थान मिला। अश्विनी बहुगुणा को कुल 3124 मत प्राप्त हुए। इस सीट पर निर्दलीय प्रत्याशी बिंदू राजपूत दूसरे स्थान पर रही। 27 बडकोट माफी सीट पर भाजपा अधिकृत प्रत्याशी अनिता सेमवाल ने रश्मि को कुल 328 मतों से हराया। अनिता सेमवाल को कुल 6053, रश्मि को कुल 5725, विमला देवी को 443, संगीता पंवार को कुल 476 मत  प्राप्त हुए।

सबसे रोचक मुकाबला माजरीग्रांट तृतीय जिला पंचायत सीट पर देखने को मिला। यहां कांग्रेस अधिकृत प्रत्याशी टीना सिंह ने भाजपा अधिकृत प्रत्याशी रीता पाल को 1859 वोटों के बड़े अंतर से हराकर भाजपा खेमे में बेचैनी बढ़ा दी। टीना सिंह को कुल 10474 वोट और रीता पाल को कुल 8616 वोट प्राप्त हुए। टीना सिंह ने लगातार दूसरी बार जिला पंचायत सदस्य सीट पर जीत दर्ज की है। द्वारा के चुनावी नतीजे सोमवार शाम तक घोषित कर दिए गए थे। जबकि रानीपोखरी जिला पंचायत के चुनावी नतीजे मंगलवार सुबह और मारखमग्रांट के शाम तक घोषित किए।

पंचायत चुनाव तय करेंगे आगे की राजनीति

डोईवाला। मुख्यमंत्री के चुनावी क्षेत्र डोईवाला में बीजेपी का लगातार दूसरा खराब प्रदर्शन रहा है। कुछ महीने पहले ही नगर पालिका चुनाव में भी कांग्रेस ने भाजपा को हराकर नगर पालिका का पद भी जीत लिया था। उसके बाद कॉलेज चुनाव से लेकर पंचायत चुनावों में भाजपा का खराब प्रदर्शन रहा है। इससे भाजपा को मायूसी तो कांग्रेसियों के चेहरे खिल गए हैं। जिस तरह डोईवाला में कांग्रेस मजबूती से आगे बढ रही है। उससे आने वाले विधानसभा चुनाव में भी वो कड़ी टक्कर दे सकती है। क्योकि कांग्रेस तब अपने किसी स्थानीय व्यक्ति पर दाव खेल सकती है।

भाजपा ने झोंकी थी पूरी ताकत

जिला पंचायत चुनाव में भाजपा ने अपनी पूरी ताकत झोंक दी थी। लेकिन इसके बावजूद उसे मात्र एक ही जिला पंचायत सीट से संतोष करना पड़ा। कमजोर मैनेजमेंट को इसकी एक वजह माना जा रहा है। वहीं कांग्रेस धीमी चाल से अपना काम करके जीत तक पहुंच गई।

बेवसाइट पर धीमा अपडेट

निर्वाचन आयोग की वेबसाइट पर काफी देर से चुनावी नतीजे अपडेट किए गए। प्रत्याशी जीतने के बाद प्रमाण पत्र लेकर अपने गांवों में भी चले गए उसके बाद भी वेबसाइट पर नतीजे अपडेट नहीं किए गए। निर्वाचन आयोग काफी सुस्त चाल से नतीजे अपडेट करता रहा।

अनिता सेमवाल ने बचाई भाजपा की लाज

बडकोट माफी सीट पर अनिता सेमवाल ने 328 वोट से जीत दर्ज करते हुए भाजपा की लाज बचाई। जिससे भाजपा का सूफडा साफ होने से बच गया। उनकी जीत से रानीपोखरी क्षेत्र के भाजपाईयों में काफी उत्साह का माहौल है।

डोईवाला की कमान संभालने वालों पर सवाल

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने अपने कई लोगों को डोईवाला की कमान सौंप रखी है। लेकिन नगर पालिका चुनाव हारने के बावजूद उन पर कोई कार्रवाई नहीं हुई। अब जिला पंचायत में हार का मुंह देखने वाली भाजपा का हाईकमान क्या रूख अपनाता है। ये देखना होगा।

 

 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
error: Content is protected !!