उत्तराखंडएक्सक्यूसिवदेशदेहरादूनराजनीतिस्वास्थ्य और शिक्षा

(थानों) चकचौबे वाला के मतदाताओं ने नहीं किया मतदान, जानिए क्यों

Listen to this article

डोईवाला। थानों न्याय पंचायत में स्थित चकचौबे वाला के मतदाताओं ने चुनाव का बहिष्कार करते हुए मतदान में भाग नही लिया।

दशकों से यहाँ के लोगों को वोट डालने के लिए थानों वन रेंज के घना जंगल पार कर दूसरे कोने में स्थित 8 किलोमीटर दूर जॉलीग्रांट पूर्व कन्या माध्यमिक विद्यालय में जाना पड़ता है। जबकि पास में थानों में पोलिंग बूथ स्थित हैं।

यहाँ के लोगों की मांग है कि जब पास में पोलिंग बूथ है तो वो 8 किलोमीटर दूर जंगल पर कर जॉलीग्रांट में वोट डालने क्यो जाएं। यहाँ ऐसे 56 मतदाता हैं। जिन्होंने मतदान का प्रयोग नही कर चुनाव बहिष्कार किया।

बीएलओ मीना ने बताया कि चकचौबे वाला के मतदाता वोट डालने नही आये। उल्लेखनीय है कि दैनिक आमोघ इस संबंध में रविवार को विस्तृत रिपोर्ट प्रकाशित कर चुका है।

पास में पोलिंग बूथ जाना पड़ा तीन किलोमीटर दूर

डोईवाला। बिचली जॉलीग्रांट, स्वामी राम नगर के काफी मतदाताओं को पास में पोलिंग बूथ होने के बावजूद करीब तीन किलोमीटर दूर राजकीय इंटर कालेज बडोवाला जॉलीग्रांट में वोट के लिए जाना पड़ा।

बिचली जॉलीग्रांट में 12 नंबर नलकूप से लेकर पंचायत घर जॉलीग्रांट के आसपास के काफी मतदाताओं को बडोवाला इंटर कॉलेज में मतदान को जाना पड़ा। जबकि पंचायत घर जोलीग्रांट के पास तीन मतदान केंद्र हैं। और पंचायत घर जोलीग्रांट व कोठरी मोहल्ले के भवन में कोई मतदान केंद्र नही है। यानि इन स्थानों पर नजदीक में वोट डालने की व्यवस्था हो सकती है।

बुजुर्ग मतदाता मीरा देवी ने कहा कि कुछ वर्ष पहले तक वो अपने घर के पास स्थित मतदान केन्द्र में वोट डालते थे। लेकिन कुछ वर्षो से मतदान केंद्र काफी दूर बडोवाला इंटर कॉलेज कर दिया गया है। जबकि 12 नंबर नलकूप से इंटर कॉलेज की दूरी करीब तीन किलोमीटर बैठती है।

ये भी पढ़ें:  40 करोड़ से अधिक की लागत से होगा उत्तराखंड के तीन रेलवे स्टेशनों का पुनर्विकास, रेलवे स्टेशन के पुनर्विकास शिलान्यास समारोह में वर्चुअल रूप से सीएम ने किया प्रतिभाग

Related Articles

Back to top button