अपराधउत्तराखंडदेहरादूनराज्य

डोईवाला शुगर मिल डीजल पर्ची फर्जीवाड़े में छह लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज, ऐसे हुआ फर्जीवाड़ा

Listen to this article

Dehradun. डोईवाला शुगर मिल डीजल पर्ची फर्जीवाड़े में पुलिस ने कुल छह लोगों के खिलाफ संबधित धाराओं में मुकदमा दर्ज किया है।

डोईवाला शुगर मिलों में जिन गाड़ियों से ठेकेदार विभिन्न गन्ना सेंटरों से गन्ने का ढुलान चीनी मिल तक करते हैं। उन्हे चीनी मिल की तरफ से डीजल की पर्चियां दी जाती हैं।

इन तेल की पर्चियों से ठेकेदार संबधित पेट्रोल पंपों से अपनी गाड़ियों से गन्ना ढुलान के लिए डीजल भरवाते हैं। उसके बाद पेट्रोल पंप संचालकों द्वारा इन पर्चियों को चीनी मिल में पेमेंट के लिए दिया जाता है।

बताया जा रहा है कि रायवाला क्षेत्र के एक पेट्रोंल पंप द्वारा जो डीजल से संबधित पर्चियां चीनी मिल में पेमेंट के लिए जमा करवाई गई हैं। उनमें गड़बड़ी पाई गई हैं।

गन्ना पर्चियों में फोन नंबर से लेकर मुहर तक में गड़बड़ी पाई गई हैं। और यह गड़बड़ी चीनी मिल के एकाउंट विभाग द्वारा पकड़ में आई हैं। जिसके बाद चीनी मिल के गन्ना कार्यालय लिपिक यशपाल सिंह की तरफ से पुलिस में कुल छह लोगों के खिलाफ आईपीसी की धाराओं 420, 467, 468, 471, 120 बी में मुकदमा दर्ज किया गया है। सुत्रों का कहना है कि तीस के लगभग पर्चियां फर्जी पाई गई हैं।

जो चीनी मिल द्वारा गन्ना ढुलाई करने वाले ठेकेदारों द्वारा पेट्रोल पंप वालों को दी गई हैं। और इन पर्चियों से 1920 लीटर के लगभग डीजल का गड़बड़झाला किया गया है।

जिसमें संबधित पेट्रोल पंप पर भी सवाल उठ रहे हैं। पुलिस ने राशिद पुत्र इकराम, निवासी हरिद्वार, इंतजार पुत्र मुस्तफा, नौशाद पुत्र मुनमैत, सोमकार पुत्र सूरजमल, नरेंद्र, पुष्पेंद्र पुत्र सूरजमल निवासी मुजफ्फनगर के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है। फिलहाल पुलिस मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!