उत्तराखंडएक्सक्यूसिवदेशदेहरादूनराजनीति

ट्रांसर्फर के बावजूद अपनी जगह जमे हुए हैं वन विभाग के कर्मचारी

वन विभाग अधिकारियों के आदेशों को ठेंगा दिखा रहे विभागीय कर्मचारी

Dehradun. वन विभाग के आला अधिकारियों के आदेशों के उनके ही विभाग के कई कर्मचारी ठेंगा दिखा रहे हैं।

जिससे वन रेंजों के काम-काज पर असर पड़ रहा है। वन विभाग के देहरादून डिवीजन में कुछ दिन पहले फॉरेस्ट गार्डो के तबादले किए गए थे। लेकिन तबादलों के बावजूद कई फॉरेस्ट गार्ड अपनी जगहों पर जमे हुए हैं। जिससे वन रेंजों के कामकाज पर इसका असर पड़ रहा है। बड़कोट वन रेंज से भी फॉरेस्ट गार्ड के ट्रांसर्फर कर दिए गए हैं।

और ट्रांसर्फर के बाद इस रेंज से फॉरेस्ट गार्डो को रिलीव भी कर दिया गया है। लेकिन जिन रेंजों से फॉरेस्ट गार्डो को बडकोट वन रेंज में ट्रांसर्फर किया गया है। उन्होंने अभी तक बडकोट में अपनी ड्यूटी नहीं संभाली है।

वर्तमान में रानीपोखरी क्षेत्र के बडकोट, झीलवाला आदि गांवों में हाथी उत्पात मचा रहे हैं। ऐसे में कर्मचारियों की कमी से जूझ रही बडकोट वन रेंज कैसे जंगली जानवरों को जंगल में रोकेगी। यह एक अहम सवाल है।

देहरादून डिवीजन से 38 के लगभग फॉरेस्ट गार्डो के ट्रांसर्फर किए गए हैं। जिसमें से कई ने ट्रांसर्फर किए गए वन रेंजों में अपना कामकाज नहीं संभाला है। उधर डीएफओ नितिशमणी त्रिपाठी ने कहा कि यह मामला उनके संज्ञान में है। जिस पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

ये भी पढ़ें:  सीएम धामी ने 15 अक्टूबर तक सैन्यधाम का निर्माण पूर्ण करने के दिए निर्देश, शहीदों के आश्रितों को दी जाने वाली आर्थिक सहायता बढ़ाये जाने के भी निर्देश, जम्मू कश्मीर में शहीद हुए जवानों के आश्रितों को शीघ्र दी जाएगी नौकरी

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!