उत्तराखंडएक्सक्यूसिवदेशदेहरादूनराजनीतिस्वास्थ्य और शिक्षा

Doiwala: मतदान केंद्र पहुँची इस नई मतदाता को जब पता चला कि उसका वोट पहले ही बैलेट पेपर से डाल दिया गया है तो जानिए फिर क्या हुआ

Listen to this article

डोईवाला। डोईवाला विधानसभा के अंतर्गत राजकीय कन्या पूर्व माध्यमिक विद्यालय जौलीग्रांट में एक नई मतदाता को मतदान अधिकारियों ने बिना वोट डाले ही बैरंग वापस लौटा दिया।

पोलिंग बूथ पर उपस्थित मतदान अधिकारियों व बीएलओ ने इस युवा मतदाता को बताया कि उनका वोट पहले ही बैलट पेपर द्वारा डाला जा चुका है। जिस कारण उसको बिना वोट डाले ही लौटा दिया गया।

इसकी सूचना डोईवाला एसडीएम और आरओ युक्ता मिश्र को दी गई। जिसके बाद युवा मतदाता सोनल सोलंकी पुत्री रविंद्र सिंह सोलंकी निवासी जौलीग्रांट को आरओ युक्ता मिश्र ने तहसील बुलाया। और फिर उनके वोट की जांच पड़ताल की गई।

जांच पड़ताल के बाद पाया गया कि सोनल सोलंकी के परिवार में एक पुलिस कर्मी सरकारी ड्यूटी में तैनात है। जिनका वोट बैलट से पहले डाला जा चुका है। लेकिन उनके स्थान पर सोनल सोलंकी के नाम के आगे बैलट से वोट देना दर्शा दिया गया। त्रुटि को ठीक करने के बाद नई मतदाता सोनल सोलंकी ने पोलिंग बूथ पर जाकर मतदान किया।

इस कार्य में डोईवाला रिटर्निंग ऑफिसर युक्ता मिश्र ने उनकी काफी मदद की। जैसे ही उन्हें इस बात की सूचना मिली उन्होंने तुरंत सोनल को उनके पिता के साथ अपने पास बुलाया। और संबंधित अधिकारियों को त्रुटि ठीक कर उनको मतदान के लिए मौके पर भेजा।

रविन्द्र सोलंकी ने बताया कि उनकी पुत्री सोनल सोलंकी ने वोट दे दिया है। कहा कि इसमें आरओ युक्ता मिश्र ने उनकी काफी मदद की है।

Related Articles

Back to top button
error: Content is protected !!